अस्पताल मे संवेदनहीनता की सारी हदें पार, बुजुर्ग मरीज के जख्मों को खा रहे चींटे

National

शाहजहांपुर: क्या आपने स्वास्थ विभाग की इतनी बड़ी लापरवाही भी देखी है, जहां एक बुजुर्ग मरीज को जिला अस्पताल का एक भी कर्मचारी देखने वाला नही और आलम ये है की जमीन पर पड़े बुजुर्ग मरीज के जख्मों मे चींटे रेंगने लगे। यहां मरीज के जख्मों को भरने के लिये गया इस मे उन जख्मों को चींटे कैसे कुरेद रहे हैं ये आप फोटो मे देखकर अंदाजा लगा सकते है।

यह भी पढ़ें: ये पैराशूट कंडीडेट ‘बबुआ’ को देगा टक्कर, BJP ने कन्नौज लोकसभा सीट जीतने का किया दावा

भारी भरकम सैलरी पाने वाले जिला अस्पताल के डाक्टर और कर्मचारियों का इस ओर कोई ध्यान नही है जबकि इस मरीज की पट्टी को देखकर आप अंदाजा लगा सकते है की कितने पहले चोट पर डाक्टर ने पट्टी लपेटी होगी। फिलहाल जब मामला मीडिया मे आता तब जिला अस्पताल प्रशासन हरकत मे आया और मामले में महज जांच की बात कहकर अपनी जिम्मेदारी निभा ली।

यह भी पढ़ें: ब्राजील: आग में जलकर नष्ट हुए राष्ट्रीय संग्रहालय का पुनर्निर्माण होगा

दरअसल मामला चौक कोतवाली के जिला अस्पताल के मेल सर्जिकल वार्ड की है। मानवता को शर्मसार कैसे किया जाता ये कोई यहां के जिला अस्पताल के डाक्टर और कर्मचारियों से सीख लें। दरअसल इस अस्पताल मे तीन दिन पहले एक अज्ञात बुजुर्ग घायल हालत मे लाया गया था। बुजुर्ग के हाथ और पैर मे चोटें आई थी।

यह भी पढ़ें: बाइक सवार दो बदमाशों ने छात्रनेता रंजीत सिंह श्रीनेत की गाड़ी पर बरसाई गोलियां

तीन दिन तक अज्ञात मरीज की कोई पहचान नही हो पाई। यही वजह थी कि आज उसकी अस्पताल मे देखरेख न होने पर अस्पताल के डाक्टर और कर्मचारियो ने भी लावारिस हालत मे छोङ दिया। तीन दिन से बुजुर्ग मरीज बेड के पास जमीन पर पङा है। जमीन पर गंदगी के साथ साथ चींटे भी रेंग रहे थे।

यह भी पढ़ें: राजस्थान: विधानसभा चुनाव से पहले BJP को झटका देने को तैयार हैं मानवेंद्र, ये है कारण

मरीज के तीन दिन पहले पट्टी की गई जो अब इतनी गंदी हो चुकी है कि कोई उसे छू भी नही सकता। इतना ही नही हद तो तब ओर हो गई जब जमीन पर रेंगने वाले चींटे मरीज के जख्मों को खाने लगे। जख्मों की पर लगी पट्टी मे से चींटो ने अपनी जगह बना ली। डाक्टर और कर्मचारी आते है मरीज को जमीन पर पङा देखकर चले जाते है।

यह भी पढ़ें: जापान में तूफान ‘जेबी’ ने दी दस्तक, 600 से ज्यादा उड़ानें रद्द

ऐसा इसलिए है कि इ मरीज के साथ इसका कोई तीमारदार नही है जो उसकी देखरेख कर सके। फिलहाल जब ये मामला मीडिया मे आया और जब मीडियाकर्मियों ने इस जिला अस्पताल की लापरवाही की कवरेज की उसके बाद अस्पताल के सीएमएस हरकत मे आए और जांच की बात कहकर अपनी जिम्मेदारी निभा ली। सीएमएस एमपी गंगवार का कहना है कि मामला मेरे संज्ञान मे आया है। इस मामले मे जांच के आदेश दे दिए है। जांच मे जो भी दोषी होगा उस कार्यवाही की जाएगी।

The post अस्पताल मे संवेदनहीनता की सारी हदें पार, बुजुर्ग मरीज के जख्मों को खा रहे चींटे appeared first on Newstrack Hindi.

Source: Hindi Newstrack