चेतावनी: अगले 24 घंटे में भारी बारिश के आसार, मौसम विभाग ने किया अलर्ट

National

नई दिल्ली: देशभर में मानसून भी मेहरबान है, दिल्ली-एनसीआर समेत पूर्वोत्तर के 10 राज्यों में झमाझम बारिश हो रही है। बारिश से कहीं राहत तो कहीं आफत आ रही है।

(function ($) {
var bsaProContainer = $(‘.bsaProContainer-2’);
var number_show_ads = “0”;
var number_hide_ads = “0”;
if ( number_show_ads > 0 ) {
setTimeout(function () { bsaProContainer.fadeIn(); }, number_show_ads * 1000);
}
if ( number_hide_ads > 0 ) {
setTimeout(function () { bsaProContainer.fadeOut(); }, number_hide_ads * 1000);
}
})(jQuery);

यूपी में पिछले 24 घंटे में 13 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई हैं, जबकि 20 से ज्यादा लोगों के घायल होने की खबर है। वहीं उत्तराखंड में भी दो की मौत की खबर है। यूपी में बारिश की वजह से नदियां उफान पर हैं। इस वजह से लोगों को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

उत्तर प्रदेश के राहत आयुक्त संजय कुमार ने 6 सितंबर यानि अगले 24 घंटे में भारी की चेतावनी जारी की है। उन्होंने सभी जिला अधिकारियों को सतर्क रहने के निर्देश दिए हैं।

दिल्ली-एनसीआर, हरियाणा के अलावा पूर्वोत्तर राज्यों अरुणाचल प्रदेश, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा और उत्तरी राज्य उत्तराखंड के कुछ इलाकों में मूसलाधार बारिश हो रही है।

दिल्ली में मंगलवार को भी रुक-रुककर बारिश होती रही। वहीं आज भी सुबह से मूसलाधार बारिश हो रही है। बारिश से जगह-जगह पानी भर गया है। जलभराव के चलते यातायात प्रभावित हो रहा है।

मानसून जाते-जाते कई राज्यों में कहर बरपा रहा है। यूपी, उत्तराखंड, दिल्ली और एनसीआर में पिछले कई घंटे से जमकर बारिश हो रही है। बारिश खरीफ की परंपरागत फसलों ज्वार, बाजरा और दलहन की कटाई की ओर बढ़ रही फसल के लिए अमृत का काम कर रही है।

वहीं महाराष्ट्र, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, पंजाब, हरियाणा और राजस्थान के कपास उत्पादक किसानों के लिए यह परेशानी का सबब बन रही है।
दक्षिण पश्चिम मानसून के चलते होने वाली बारिश अमूमन जुलाई के अंतिम हफ्ते या फिर एक सितंबर तक खत्म हो जाती है। लेकिन मौसम विभाग की मानें तो इस साल मानसून दस दिन आगे खिसक गया है।

इसके कारण हो रही बारिश से उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान, हरियाणा और पंजाब में रबी की खेती करने वाले किसान खुश हैं। लेकिन कपास उत्पादक किसानों के लिए यह किसी मुसीबत से कम नहीं है।

वहीं अवध के कई जिलों में लगातार बारिश से दीवारें और घर गिरने लगे। इन घटनाओं में 13 लोगों की मौत हो गई जबकि दो दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए। बीते चौबीस घंटों में फैजाबाद व अंबेडकरनगर में तीन-तीन, रायबरेली में दो व बाराबंकी, सुल्तानपुर, एटा और गोंडा में एक-एक व्यक्ति की मौत हो गई।मृतकों में तीन मासूम बच्चे भी शामिल हैं।

बारिश के चलते दीवार गिरने से फैजाबाद में गंगाराम वर्मा (70),  खंडासा में हीरालाल (80) और अंजना गांव में गायत्री देवी (65) की जान गई। जबकि ऐसे ही हादसों में रायबरेली के कठघर गांव में सुखलाल (48) और बेलाभेला गांव में महेश चौरसिया के बेटा अंशू (6) की मौत हो गई।

वहीं अंबेडकरनगर के पांडेय पैकोली गांव में विपता देवी (70), मिझौड़ा गांव में पलटू (68) और तकिया कानूनगो गांव में पंकज पाल की पुत्री अवि (7) की घर गिरने से जान चली गई।

इसके अलावा बाराबंकी के दरियाबाद में जगदीश(65), बीकापुर ब्लॉक में कच्ची दीवारों के गिरने दुबवा निवासी सुषमा देवी (50),गोंडा में बिहारी लाल निषाद (60) और सुल्तानपुर के हलियापुर में कमला (40) ने दम तोड़ दिया। एटा के भगीपुर में मकान गिरने से मलबे में दबकर सोनम (7) पुत्री ओमपाल की मौत हो गई।

बारिश के चलते पूर्वांचल में गंगा, घाघरा और अन्य नदियां उफान पर हैं। वाराणसी के कुछ इलाकों और मिर्जापुर में 15 गांवों में पानी घुस गया। विभिन्न जिलों में दर्जनभर कच्चे मकान, छत, दीवारें ढह गईं। इसमें महिला की मौत और चार लोग घायल हो गए।

भदोही, मिर्जापुर, गाजीपुर, वाराणसी, चंदौली में गंगा का पानी बढ़ रहा है। बलिया में गंगा खतरे के निशान को पार कर गई हैं। बलिया, मऊ और आजमगढ़ में घाघरा और जौनपुर में गोमती का जलस्तर बढ़ रहा है।

वहीं उत्तराखंड के नैनीताल में बारिश से उफनाए नदी नालों का कहर जारी जारी है। रामनगर वन प्रभाग में देचौरी रेंज के जंगल में लदुवागाड़ नाले में बहने से युवक और युवती की मौत हो गई। दोनों के शव मंगलवार को बरामद किए गए।

हिमाचल में सोमवार रात से जारी भारी बारिश से चार हाईवे समेत सौ से ज्यादा सड़कें बंद रहीं। चार मकान और दो गोशालाएं ढह गई हैं। कुल्लू की ऊझी घाटी में बागवानों ने सेब तुड़ान रोक दिया है। राजधानी शिमला में नेशनल हाईवे 5 पर भट्ठाकुफर के पास मलबा गिरने से सेब से लदे सैकड़ों ट्रक पांच घंटे फंसे रहे।

वहीं हरियाणा के गुरुग्राम में मानसून के अंतिम पड़ाव पर मंगलवार को दिनभर में दो घंटे हुई बारिश ने शहर को तरबतर कर दिया। गुरुग्राम समेत पटौदी को मिलाकर शाम तक पूरे जिले में 46 एमएम बारिश दर्ज की गई।

ये भी पढ़ें…भारी बारिश से गिरी घर की दीवार, दो मासूमों समेत तीन की मौत 

The post चेतावनी: अगले 24 घंटे में भारी बारिश के आसार, मौसम विभाग ने किया अलर्ट appeared first on Newstrack Hindi.

Source: Hindi Newstrack