जम्‍मू-कश्‍मीर: गैंगरेप के बाद निकाल ली थीं बच्‍ची की आंखें, प्राइवेट पार्ट में डाल दिया था तेजाब

National

श्रीनगर: जम्‍मू-कश्‍मीर के बारामूला जिले में नौ साल की बच्‍ची के साथ गैंगरेप के मामले में क्रूरता की सारी हदें पार कर दी गई थीं। जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस की जांच में खुलासा हुआ है कि बच्‍ची के साथ गैंगरेप के बाद आरोपियों ने उसकी आंखें निकाल ली थीं और प्राइवेट पार्ट में ऐसिड डाल दिया था। मानवता को शर्मसार कर देने वाली इस घटना के सिलसिले में पुलिस ने बच्‍ची की सौतेली मां, सौतेले भाई समेत पांच लोगों को अरेस्‍ट किया है।

(function ($) {
var bsaProContainer = $(‘.bsaProContainer-2’);
var number_show_ads = “0”;
var number_hide_ads = “0”;
if ( number_show_ads > 0 ) {
setTimeout(function () { bsaProContainer.fadeIn(); }, number_show_ads * 1000);
}
if ( number_hide_ads > 0 ) {
setTimeout(function () { bsaProContainer.fadeOut(); }, number_hide_ads * 1000);
}
})(jQuery);

बारामूला के एसएसपी इम्तियाज हुसैन ने मीडिया से बातचीत में बताया, ‘बच्‍ची के साथ गैंगरेप के बाद उसकी हत्‍या कर दी गई थी। आरोपियों ने बच्‍ची की आंखें निकाल ली थीं और उसके प्राइवेट पार्ट में ऐसिड डाल दिया था। हमने हत्‍या में इस्‍तेमाल हथियार और ऐसिड लाने के लिए इस्‍तेमाल किए गए प्‍लास्टिक केन को बरामद कर लिया है। दो नाबालिगों समेत सभी 5 आरोपियों को अरेस्‍ट कर लिया है।’

2 सितंबर को मिला था मासूम का शव
उन्‍होंने बताया कि जांच के दौरान पुलिस ने पाया कि परिवार का भी कोई सदस्‍य इसमें शामिल है। इसके बाद कुछ लोगों के साथ पुलिस स्‍टेशन में पूछताछ की गई। पूछताछ में मिली सूचना के आधार पर बच्‍ची की सौतेली मां, सौतेले भाई और इस अपराध में शामिल तीन अन्‍य लोगों को अरेस्‍ट किया गया। बता दें कि 2 सितंबर को लापता लड़की का शव उसके घर से एक किलोमीटर दूर सड़ी-गली अवस्था में बरामद हुआ था।

शव के बरामद होने से पहले बच्ची के पिता ने अपनी बेटी के लापता होने की शिकायत दर्ज कराई थी। इस शिकायत में उन्होंने बच्ची के अपहरण की आशंका भी जताई थी, जिसपर पुलिस अधिकारियों ने लापता बच्ची की तलाश के लिए टीमों का गठन किया था। मामले की जांच के दौरान, पुलिस को पता चला कि लड़की के पिता की दो पत्नियां हैं और बच्ची झारखंड की निवासी एक महिला की बेटी है।

सौतन से जलन बना वारदात का कारण 
पुलिस के मुताबिक, पीड़िता की सौतेली मां फहमीदा उससे नफरत करती थी और अपने पति की दूसरी पत्नी से जलन के कारण ही उसने इस वारदात को अंजाम दिया। इसके बाद जब बच्ची लापता हुई तो उसके पिता ने पुलिस के पास गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई, जिसपर उड़ी के जंगलों में तलाश के दौरान पीड़िता का शव बरामद किया गया। पुलिस के मुताबिक पीड़िता की मां उसे जंगल में लेकर गई थी, जहां उसने अपने बेटे और तीन अन्य साथियों के साथ पूरी वारदात को अंजाम दिया।

ये भी पढ़ें…शिवपाल यादव ने दी बारामूला हमले में शहीद जवान को श्रद्धांजलि

 

The post जम्‍मू-कश्‍मीर: गैंगरेप के बाद निकाल ली थीं बच्‍ची की आंखें, प्राइवेट पार्ट में डाल दिया था तेजाब appeared first on Newstrack Hindi.

Source: Hindi Newstrack