भाजपा सरकार में हो रहा शिक्षकों का अपमान: अखिलेश यादव

National

लखनऊ: सूबे के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने बुधवार को शिक्षक दिवस पर सभी शिक्षकों, प्रदेशवासियों और देशवासियों को बधाई दी। उन्‍होंने कहा कि शिक्षक का सम्मान ही समाज का सम्मान है। शिक्षक है और शिक्षक जब आने वाली पीढ़ी को सही शिक्षा देता है तो उसी से राष्ट्र का निर्माण अच्छा होता है। राष्ट्र के निर्माण के लिए और बेहतर निर्माण के लिए यह जरूरी है कि हम अपने शिक्षकों का सम्मान करें। लेकिन वर्तमान बीजेपी सरकार इस बात की उपेक्षा कर रही है।

(function ($) {
var bsaProContainer = $(‘.bsaProContainer-2’);
var number_show_ads = “0”;
var number_hide_ads = “0”;
if ( number_show_ads > 0 ) {
setTimeout(function () { bsaProContainer.fadeIn(); }, number_show_ads * 1000);
}
if ( number_hide_ads > 0 ) {
setTimeout(function () { bsaProContainer.fadeOut(); }, number_hide_ads * 1000);
}
})(jQuery);

शिक्षकों का भाजपा कर रही अपमान

अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा ने हर एक का सम्मान गिराया है। किसानों को कर्ज माफी का वादा करके किसानों के साथ धोखा किया। नौजवान जब भी अपनी मांग लेकर लखनऊ आया है, नौकरी को लेकर मांग की होगी। उनका भी अपमान करने का काम भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने किया है। यह कहना कि नौजवान योग्य नहीं है, यह पूरी तरीके से गलत है। यहां अगर अच्छी नौकरी निकले तो यहां इतनी प्रतिभा है कि वह सभी नौकरियों को हासिल कर सकते हैं। मगर दुर्भाग्य है कि इस सरकार में जैसे ही नौकरी आती है, पेपर होने से पहले ही पेपर लीक हो जाते हैं। इसका दोषी अगर कोई है तो वह सिर्फ सरकार है। जो शिक्षक अपना सर मुंडवा रहे हैं, वह शिक्षक नहीं हो सकते। मैं सिर्फ भारतीय जनता पार्टी से पूछना चाहता हूं कि जो शिक्षा मित्र अपनी मांग यहां लेकर आए थे उनको शिक्षामित्र किसने बनाया था। भारतीय जनता पार्टी भूल गई है कि देश में शिक्षामित्र की व्यवस्था किसने लागू की थी। उस समय भारतीय जनता पार्टी की सरकार थी। उन्होंने ही शिक्षा मित्रों को बनाने का काम किया था और उन्हीं शिक्षा मित्रों को समाजवादी सरकार में समायोजित करने का काम किया गया था। उनको सम्मान देने का काम किया था।

मेट्रो पर अखिलेश का बयान

अखिलेश यादव ने कहा कि आज भाजपा सरकार मेट्रो में कोई नए कार्ड की शुरुआत कर रही है। लेकिन मैं बताना चाहूंगा कि लखनऊ में मेट्रो की शुरुआत समाजवादी की ही देन है। हम समाजवादियों और पूरे प्रदेश को इस बात का इंतजार है कि और जिलों में तथा शहरों में कब मेट्रो चलेगी। कम से कम बड़े शहरों में मेट्रो चलाने का काम समाजवादी सरकार में शुरु हो गया था। सबसे बड़ी बात यह है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने झांसी और गोरखपुर में मेट्रो चलाने की बात कही थी। हमें इंतजार है कि झांसी और गोरखपुर में कब मेट्रो चलेगी।

आगरा में ताजमहल नहीं, गोबर पहले दिखता है

अखिलेश यादव ने कहा कि स्मार्ट सिटी जब बननी होगी, तब बनेगी। लेकिन शहरों में नालियों का पानी सड़कों से तो पहले हटा दें। अगर नालियां साफ नहीं कर पा रहे हैं तो कम से कम सड़कों से गोबर हटा दें। जहां टूरिस्ट सबसे ज्यादा आते हैं, आगरा में वहां अगर कोई ताजमहल देखने जाए तो इस समय सबसे पहले उसे गोबर देखना पड़ेगा।

डिप्टी सीएम का सरकार कर रही अपमान

डिप्टी सीएम को अपमानित करने का काम किया जा रहा है। एक बार गलती से वह शास्त्री भवन में बैठ गए थे लेकिन जैसे ही मुख्यमंत्री को पता चला वह दिन है और आज का दिन है कि वो ना कभी वहां जा पाए और ना बैठ पाए। अब उनको समझा बुझाकर यह कहा गया है कि तुम्हारा नंबर 2019 में आएगा। इसलिए वह इस समय बैकवर्ड सम्मेलन करने में लगे हैं।

The post भाजपा सरकार में हो रहा शिक्षकों का अपमान: अखिलेश यादव appeared first on Newstrack Hindi.

Source: Hindi Newstrack