भारत बंद का कहर: बिहार के जहानाबाद में पथराव, पप्पू यादव पर हमला, ASP घायल

National

नई दिल्ली: अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति (एससी –एसटी) एक्ट के विरोध में विभिन्न संगठनों की ओर से गुरुवार को बुलाए गए एक दिवसीय ‘भारत बंद’ का देश भर में असर देखने को मिल रहा है। बंद समर्थकों की तरफ से कई स्थानों पर रेल और सड़क मार्ग बाधित कर प्रदर्शन किए जाने से यहां आवागमन पर प्रतिकूल असर देखा गया।

(function ($) {
var bsaProContainer = $(‘.bsaProContainer-2’);
var number_show_ads = “0”;
var number_hide_ads = “0”;
if ( number_show_ads > 0 ) {
setTimeout(function () { bsaProContainer.fadeIn(); }, number_show_ads * 1000);
}
if ( number_hide_ads > 0 ) {
setTimeout(function () { bsaProContainer.fadeOut(); }, number_hide_ads * 1000);
}
})(jQuery);

ये भारत बंद कई सवर्ण संगठनों ने मिलकर बुलाया है। सभी को केंद्र सरकार के इस फैसले से आपत्ति है। देश के अलग-अलग राज्यों में भारत बंद का असर दिख रहा है। बिहार, राजस्थान, मध्यप्रदेश समेत कई राज्यों में गुरुवार को प्रदर्शन किया गया। बिहार में कई जगह आगजनी भी हुई। मधुबनी में पदयात्रा पर निकले पप्पू यादव पर पथराव भी किया गया। वहीं इस हमले में एक एएसपी के भी घायल होने की खबर है।

बड़े अपडेट्स –

01.48 PM: मुजफ्फरपुर में बंद समर्थकों ने जनता अधिकार पार्टी के सांसद पप्पू यादव पर हमला कर दिया है। पप्पू यादव मधुबनी में पदयात्रा के लिए जा रहे थे।

01.46 PM: बिहार के जहानाबाद में बंद कर रहे समर्थकों ने पथराव किया है इस पथराव में ASP संजय सिंह घायल हो गए हैंASP को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

12.55 PM: BJP सांसद उदित राज ने सवर्णों के भारत बंद पर कहा कि इसका कोई असर नहीं दिख रहा है। 10 लोग भी इकट्ठा होकर जाम लगा देते हैं और सड़कें रोक देते हैं। उन्होंने कहा कि इस बंद का असर सिर्फ उन इलाकों में है जहां पर चुनाव होना हैं। जो लोग बीजेपी से नफरत करते हैं, सिर्फ वही इसके पीछे हैं।

11.49 AM: राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के चेयरपर्सन राम शंकर कठेरिया ने कहा कि ये आंदोलन राजनीति से प्रेरित है।

11.30 AM: बिहार के आरा में बंद समर्थकों और पुलिस के बीच झड़प हुई। इस दौरान बंद समर्थकों ने पुलिस पर पथराव भी किया। पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए बंद समर्थकों लाठीचार्ज किया। सूत्रों की मानें तो आरा में फायरिंग भी हुई है। घटना शहर के नवादा थाना क्षेत्र के जगदेव नगर मुहल्ले की है।

11.14 AM: ग्वालियर में केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, मध्य प्रदेश के शिक्षा मंत्री जयभान सिंह, मध्य प्रदेश सरकार में मंत्री माया सिंह, कैबिनेट मंत्री नारायण सिंह कुशवाहा के घर की सुरक्षा बढ़ाई गई है। सवर्णों के विरोध प्रदर्शन को देखते हुए बीजेपी नेताओं के घर की सुरक्षा बढ़ाई गई।

11.03 AM: उत्तर प्रदेश के नोएडा में सवर्णों के समूहों ने विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान लोग काली पट्टी बांध सड़कों पर उतरे और सरकार विरोधी नारे लगाए।

10.26 AM: बिहार के कई हिस्सों में लोगों ने आगजनी पर विरोध जताया।

10.21 AM: महाराष्ट्र के ठाणे में भी सवर्ण समुदाय के लोग SC/ST एक्ट का विरोध करने सड़क पर उतरे हैं।

10.21 AM: महाराष्ट्र के ठाणे में भी सवर्ण समुदाय के लोग SC/ST एक्ट का विरोध करने सड़क पर उतरे हैं।

09.40 AM: बिहार के दरभंगा और मसूदन में प्रदर्शनकारियों ने ट्रेनों को रोका, भारी संख्या में लोग सड़कों पर उतरे।

09.09 AM: बंद का असर मध्य प्रदेश में भी है। ग्वालियर, भिंड, मुरैना समेत 10 जिलों में धारा-144 लागू कर दिया गया है। गौरतलब है कि 2 अप्रैल को दलितों के बंद के दौरान इन इलाकों में भारी हिंसा हुई थी।

08.32 AM: बिहार के लखीसराय जिले में लोगों ने NH-80 को जाम कर दिया है।

08.17 AM: छपरा में सवर्णों ने NH-19 पर जाम लगा दिया है। बड़ी संख्या में लोग मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर सड़कों पर उतरे हैं।

08.15 AM: मधुबनी में सवर्ण आंदोलनकारियों ने एनएच-105 पर जाम लगा दिया है. लोग केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर कर रहे हैं।

08.04 AM: बिहार के आरा में सवर्णों ने आरा रेलवे स्टेशन के पास लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस को रोक दिया गया है। यहां लोगों का कहना है कि SC/ST कानून में जल्द बदलाव नहीं किया गया तो इससे भी बड़ा आंदोलन देश में होगा।

 मध्यप्रदेश
भारत बंद को देखते हुए मध्यप्रदेश के दस जिलों में धारा 144 लागू की गई हैमध्यप्रदेश के भिंड, ग्वालियर, मोरेना, शिवपुरी, अशोक नगर, दतिया, श्योपुर, छत्तरपुर, सागर और नरसिंहपुर में धारा 144 लागू की गई है। इस दौरान यहां पर पेट्रोल पंप, स्कूल, कॉलेज बंद रहेंगे।

बता दें कि इससे पहले एससी/एसटी एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के विरोध में दलित संगठनों ने 2 अप्रैल को ‘भारत बंद’ बुलाया था। तब सबसे ज्यादा हिंसा मध्य प्रदेश के ग्वालियर और चंबल संभाग में हुई थी। इस वजह से इस बार प्रशासन ‘भारत बंद’ को देखते हुए पूरी तरह सतर्क है।

राजस्थान
एससी/एसटी एक्ट में संशोधन लाए जाने के विरोध में राजस्थान में अगड़ी जातियों ने सड़क पर उतरने का ऐलान किया है। गुरुवार सुबह भारत बंद का असर यहां भी दिखना शुरू हुआ और जयपुर के स्कूल, कॉलेज और मॉल सब बंद नज़र आए।

राजस्थान में सर्व समाज संघर्ष समिति ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार जातियों को आपस में लड़ाना चाहती है, लेकिन हम इसे पूरा नहीं होने देंगे।

बिहार
बंद को लेकर बिहार में अच्छा खासा असर देखा जा रहा है। बिहार के खगड़िया में सवर्णों के समूह ने NH31 पर जाम लगा दिया है। यहां पर लोग मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं। लोगों की मांग है कि सुप्रीम कोर्ट ने जो आदेश दिया है उसका पालन किया जाए।

पिछली हिंसा से सबक लेते हुए प्रशासन ने इस बार कई जिलों में अलर्ट जारी कर भारी पुलिस की तैनाती किए जाने के निर्देश जारी कर दिए हैं। भीड़ से निपटने के लिए आंसू गैस के गोले भी थानों में पहुंचा दिए गए हैं।

उत्तर प्रदेश
भारत बंद को देखते हुए उत्तर प्रदेश में सुरक्षा को मुस्तैद किया गया है। राज्य में कुल 11 जिलों में अलर्ट जारी किया गया है। राजधानी लखनऊ समेत बिजनौर, इलाहाबाद, आजमगढ़, बरेली जैसे कई शहरों में पुलिस को अलर्ट पर रखा गया है। ताकि किसी भी तरह के हालातों से निपटा जा सके।

 

 

The post भारत बंद का कहर: बिहार के जहानाबाद में पथराव, पप्पू यादव पर हमला, ASP घायल appeared first on Newstrack Hindi.

Source: Hindi Newstrack