चांद की सैर करने का सपना जल्द होगा पूरा

International
चांद की सैर का सपना जल्द सच होने वाला है। निजी अमेरिकी एयरोस्पेस निर्माता कंपनी ‘स्पेस एक्स’ ने बिग फाल्कन रॉकेट (बीएफआर) के जरिये चांद पर पर्यटक भेजने की घोषणा है। इस रॉकेट को लोगों को अंतरिक्ष में ले जाने के लिए डिजाइन किया गया है।
अमेरिकी कंपनी ने बृहस्पतिवार को ट्वीट किया, ‘स्पेस एक्स ने बीएफआर के जरिये चांद के आसपास की सैर करने के लिए एक निजी पर्यटक से अनुबंध किया है। अंतरिक्ष में जाने का सपना देखने वालों की इच्छा पूरा करने की दिशा में यह बड़ा कदम है।’ हालांकि, कंपनी का कहना है कि वह सोमवार को योजना की विस्तृत जानकारी देगी।

यह पहली बार नहीं है जब स्पेस एक्स ने चांद के करीब पर्यटक भेजने की योजना बनाई है। फरवरी, 2017 में कंपनी ने 2018 के अंत में चांद के पास दो अंतरिक्ष पर्यटक भेजने का एलान किया था।

दोनों पर्यटकों को ड्रैगन क्रू व्हीकल से भेजने की योजना थी। स्पेस एक्स अमूमन इस व्हीकल का इस्तेमाल अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशनों को आपूर्ति के लिए करती है। हालांकि, उसकी यह योजना परवान नहीं चढ़ सकी।

नंबर गेम 
– 1972 में अंतिम अपोलो मिशन के बाद से इंसान ने चांद पर कदम नहीं रखा है।
– 1969 में अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री नील आर्मस्ट्रांग और बज एल्ड्रीन चांद पर पहुंचने वाले पहले मनुष्य थे।
– 24 अंतरिक्ष यात्री ही अब तक के इतिहास में चांद पर पहुंच सके हैं।

क्रू शिप बनाने पर भी काम 
स्पेस एक्स नासा की व्यावसायिक साझेदार है, जो एक क्रू शिप बनाने में जुटी है। यह क्रू शिप अगले साल अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन की कक्षा में अपनी पहली उड़ान भरेगा। 2011 में स्पेस शटल प्रोग्राम खत्म होने के बाद यह पहला मौका होगा, जब अमेरिका की अंतरिक्ष तक पहुंच बहाल हो सकेगी।

नासा भी कर रहा है तैयारी

अमेरिकी राष्ट्रपति चांद पर दोबारा इंसान भेजने की योजना का समर्थन कर चुके हैं। अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा भी इस दिशा में काम कर रही है। नासा चांद पर ऐसा गेटवे बनाने में जुटी है, जो मंगल और अन्य क्षुद्र ग्रहों पर मिशन भेजने के लिए लांचिंग पैड का काम करेगा।

Source: Purvanchal media