रसमाधुरी बनाने की विधी

Lifestyle

कितने लोगों के लिए : 4

रसमाधुरी

सामग्री :

8 चपटे छेने के रसगुल्ले, संदेश, 1 टे. स्पून दूध में घुली चुटकी भर केसर, 1 टे. स्पून मेवा, 1/4 टी स्पून पिसी इलायची, 3 टे. स्पून दूध, 2 ताजे केले के पत्ते।

सजावट के लिए : 1 टे. स्पून चांदी का वर्क लगे पिस्ता, दो बूंद खाने वाला केसरिया रंग।

विधि :

केले के पत्तों को एक डिब्बे का रूप दें। चपटे रसगुल्ला छेने को बीच से बराबर-बराबर दो भागों में काट लें। एक भाग संदेश में केसर दूध, कटे मेवा, पिसी इलायची डालकर अच्छे से मिला, उन्हें आठ भागों में बांट लें। संदेश के दूसरे भाग में भी दूध डाल मुलायम पेस्ट बना लें। केसर-संदेश मिश्रण को छेना रसगुल्ले के बीच में रख उसे केले पत्ते के डिब्बे में रखें। प्रत्येक डिब्बे में ऊपर से संदेश दूध मिश्रण भरें। चांदी का वर्क लगे पिस्ता और केसर रंग से सजाकर परोसें।

The post रसमाधुरी बनाने की विधी appeared first on Poorvanchal Media Group.

Source: pURVANCHAL MEDIA
Click link to read original post
रसमाधुरी बनाने की विधी