Health

समलैंगिक हैं … तो क्या पाप है!

हिन्द न्यूज़ डेस्क|आज कई जगहों पर होमोसेक्सुँलिटी को जगह दे दी गयी है तो कहीं आज भी लोग गे हैं या लेस्बियन अपनी आइडेंटिटी छुपा कर रखतें हैं. लोग इन चीजों को छुपाते है उन्हें लगता है उनकी बेस्ती न हो जाए. जहां सेक्स हर जीव की बेसिक नीड है ताकि पृथ्वी पर जनरेशन आगे निरंतर बढती रहे वही ये सेक्स करना और उसे अपनी जरूरतों के हिसाब से ढाल लेना मनुष्य प्रजाति ने कुछ हद तक सीख ही लिया है. आज एक ही सेक्स के दो लोग सम्भोग करने में परहेज नहीं रखते, अपोजिट सेक्स का होना कोई जरुरी नहीं है.

जानिये कौन सी हैं ऐसी 60 दवाएं जिन्हें लेते हैं आप, लेकिन वो करती हैं नुक्सान

चलिए आज हम होमोसेक्शुआलिटी या समलैंगिकता को छोड़कर इसके बरक्स जो रिश्ता होता है, उसकी बात करें. क्या आप जानते हैं कि उसे क्या कहते हैं?

बहुत से लोग ये कहते हैं कि इसे सामान्य यौन संबंध कहेंगे, जिसमें औरत, मर्द की तरफ़ या मर्द औरत की तरफ़ आकर्षित होते हैं.

अंग्रेज़ी में इसके लिए लफ़्ज़ है Heterosexual या HeteroSexuality. डिक्शनरी में तलाशें तो हिंदी में इस शब्द का मतलब होता है उभयलिंगी.

बिरयानी में सुगंध के लिए डाली जाने वाली ये चीज़ बनी कैंसर का सबसे बड़ा इलाज

विपरीत लिंग के साथी में दिलचस्पी क़ुदरत में इतनी आम है कि इसे सामान्य सेक्स संबंध का नाम दे दिया गया. मगर कभी आपने सोचा कि आख़िर आपको कब इसके बारे में बताया गया. कब आपको समझाया गया कि आप मर्द हैं तो आपको औरत से ही रिश्ता बनाना है या औरत हैं तो मर्द से ही रिश्ता बनाना है.

आप कहेंगे कि ये तो क़ुदरतन होता है. इसे कोई सिखाया-पढ़ाया थोड़े ही जाता है. जिसे आप सामान्य सेक्स संबंध कहते हैं वो अगर क़ुदरती तौर पर आपके अंदर आता है. तो उन लोगों के अंदर भी प्रकृति के साथ ही सेक्स की वो दिलचस्पी पैदा होती है, जिसे समलैंगिकता कहकर कुछ लोग नफ़रत की नज़र से देखते हैं.

ठेलों पर गन्ने के रस की जगह बिक रही बीमारी, जानिए सच रहें सावधान

भारत में तो प्राचीन काल में सेक्स को लेकर खुलकर चर्चा होती थी. मगर, पश्चिमी देशों में आज आप सेक्स को लेकर जो खुलापन देख रहे हैं, वो ज़्यादा पुरानी बात नहीं है. ये सिर्फ़ पिछले सौ सालों में हुआ है.

आज से एक सदी पहले समलैंगिकता को ज़्यादातर पश्चिमी देशों में जुर्म और पाप माना जाता था. ये ग़ैरक़ानूनी भी था और दीन-ईमान के ख़िलाफ़ भी.

उन्नीसवीं सदी तक सामान्य यौन संबंध जिसे अंग्रेज़ी में हेटरोसेक्शुअल कहा जाता है, वही सही अमल समझा जाता था. लेकिन बीसवीं सदी के आग़ाज़ ने यौन संबंध जैसे विषय को बहस का एक बड़ा मुद्दा बना दिया.

 

The post समलैंगिक हैं … तो क्या पाप है! appeared first on Hindi News | Latest Hindi News.

Source: Hindnews24x7
Click link to read original post
समलैंगिक हैं … तो क्या पाप है!

Samvadata
Samvadata.com is the multi sources news platform.
http://Samvadata.com