Viral

सुहागरात मनाने के बाद सुबह पति को सोता छोड़ गई थी पत्नी, अब सामने आई ये सच्चाई।

मध्य प्रदेश के उज्जैन में पुलिस ने शादी के नाम पर धोखाधड़ी करने वाली दो महिलाओं सहित चार लोगों को पकड़ा है। इनमें से एक लड़की दुल्हन बनकर ब्याह रचाती थी, जबकि दूसरी उसकी मामी बनकर कन्यादान करती थी। जांच में पता चला है कि मोटी रकम लेने के बाद ये शादी करवाते फिर सुहागरात के अगले दिन दुल्हन पति और परिजनों को सोता छोड़ फरार हो जाती थी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, उज्जैन के बड़नगर के एक ईंट भट्टा संचालक दिनेश प्रजापति ने पुलिस से शिकायत की थी कि उसने 80 हजार रुपए देकर एक लड़की से ब्याह रचाया था। शादी के एक दिन बाद ही दुल्हन उसे सोता छोड़ घर से कीमती सामान बटोरकर भाग गई। दिनेश की शिकायत पर पुलिस ने मामले की पड़ताल शुरू की।

महिला, उसकी मामी और मामा के फोटो और मोबाइल नंबर की जांच के बाद पुलिस ने इंदौर से सीमा उर्फ दिव्या को पकड़ा। उसकी निशानदेही पर कुशवाह नगर से उसकी मुंह बोली मामी सारिका और मामा राकेश अहिरवार को भी गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने बताया कि यह गिरोह शादी के नाम पर ज्यादा उम्र के लड़कों, विधुर और तलाकशुदा लोगों को अपना शिकार बनाता था।

ये लोग शादी करवाने के लिए सीमा को दुल्हन बनाकर लड़के को दिखाते थे। सुंदर होने के कारण वह सीमा को तत्काल पसंद कर लेते थे। इसके बाद शादी के लिए ये लड़केवालों से मोटी रकम वसूलते थे। इसके बाद बकायदा शादी करवाकर सीमा को विदा करते थे। शादी के अगले ही दिन दुल्हन ससुरालवालों की नजरों से बचकर यहां से कीमती सामान लेकर भाग जाती थी।

इसके बाद सभी मिलकर रुपए का बंटवारा कर लेते थे। सीमा मूल रूप से राजस्थान के प्रतापगढ़ की निवासी है। इंदौर में वह एक युवक को पति बताकर रह रही थी.

Source: Gorakhpur times
Click link to read original post
सुहागरात मनाने के बाद सुबह पति को सोता छोड़ गई थी पत्नी, अब सामने आई ये सच्चाई।