तेजस एक्सप्रेस का खाना खाने से 26 यात्री बीमार

National

गोवा-मुंबई तेजस एक्सप्रेस का खाना खाने से रविवार को 26 यात्री बीमार पड़ गए.सभी बीमार यात्रियों को उपचार के लिए सरकारी  व्यक्तिगत अस्पतालों में भर्ती कराया गया है.इस ट्रेन में आइआरसीटीसी कांट्रैक्ट के जरिये कैटरिंग की सेवा देती है. कैटरिंग कांट्रैक्टर को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है. देर रात आइआरसीटीसी के एक ऑफिसर  कैटरिंग मैनेजर को निलंबित कर दिया गया.

सेंट्रल रेलवे के एक ऑफिसर ने बताया कि रविवार को दोपहर लगभग 12.10 बजे खाना खाने के बाद कुछ यात्रियों को उल्टियां होने लगीं. लगभग सवा तीन बजे बीमार यात्रियों को चिपलून स्टेशन पर उतारकर अस्पतालों में भर्ती कराया गया. ट्रेन गोवा के करमाली से मुंबई के छत्रपति शिवाजी टर्मिनस जा रही थी. यह कई आधुनिक सुविधाओं से युक्त राष्ट्र की पहली तेजस एक्सप्रेस है. इसे 24 मई, 2017 को तत्कालीन रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था.

खाने की गुणवत्ता को लेकर उठाए जा रहे सवालों पर आइआरसीटीसी ने ट्वीट के जरिये जवाब दिया है. एक के बाद एक ट्वीट करते हुए इसने बोला कि 230 लोगों को खाना परोसा गया था. जांच के लिए इनके नमूने ले लिए गए हैं. आइआरसीटीसी के अध्यक्ष  प्रबंध निदेशक एमपी मल्ल ने बोला कि मामले की जांच के लिए कैटरिंग सेवाओं के निदेशक मुंबई रवाना हो गए हैं.

किए गए थे तमाम दावे
तेजस एक्सप्रेस प्रारम्भ होने पर इस ट्रेन में कैटरिंग सर्विस को लेकर तमाम दावे किए जा रहे थे. पूर्व रेल मंत्री सुरेश प्रभु के एरिया में चलने वाली इस प्रीमियम ट्रेन में कैटरिंग के लिए खास बंदोवस्तकरने का प्रचार किया जा रहा था. यात्रियों से अच्छा खासा कैटरिंग चार्ज भी लिया जा रहा है.एग्जीक्युटिव क्लास में कैटरिंग के लिए यात्रियों को अलावा 504 रुपये  एसी चेयरकार में 410 रुपये खर्च करने पड़ते हैं.

The post तेजस एक्सप्रेस का खाना खाने से 26 यात्री बीमार appeared first on Poorvanchal Media Group.

Source: Purvanchal media
Click link to read original post
तेजस एक्सप्रेस का खाना खाने से 26 यात्री बीमार