National

BJP समर्थित रिपब्लिक चैनल वा अर्नब गोस्वामी को हाईकोर्ट ने भेजा नोटिस, गलत रिपोर्टिंग पर जवाब मांगा !

दिल्ली : भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता के तौर पर रिपोर्टिंग करने वाले पत्रकार अर्नब गोस्वामी व भाजपा समर्थित उनके रिपब्लिक टीवी न्यूज़ चैनल को दिल्ली उच्च न्यायालय ने नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है। कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने उनकी पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत के बारे में गलत रिपोर्टिंग करने का आरोप लगाया है। थरूर ने तर्क रखा है कि वे उनकी चुप्पी का सम्मान करें।

न्यायमूर्ति मनमोहन के समक्ष शशि थरूर ने दायर मानहानि मामले में कहा कि अर्नब गोस्वामी के वकील ने 29 मई को आश्वासन दिया था कि उनके खिलाफ गलत भाषा का प्रयोग नहीं किया जाएगा बावजूद इसके समाचारों में उनकी प्रतिष्ठा खराब करने व मानहानि पूर्ण तथ्य दिखाए जा रहे है।

अदालत ने अर्नब व चैनल को नोटिस जारी करते हुए कहा आपको याची की चुप्पी के अधिकार का सम्मान करना चाहिए। थरूर की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता सलमान खुर्शीद ने कहा कि अदालत को अर्नब व चैनल को सुनंदा पुष्कर की हत्या का उल्लेख करने से रोकना चाहिए। अभी तक यह साबित नहीं हुआ है कि यह हत्या का मामला है।

दिल्ली उच्च न्यायालय की कार्यवाही पर अरनब गोस्वामी ने दी ये सफाई !

गोस्वामी और चैनल की और से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता संदीप सेठी ने कहा कि उन्होंने समाचारों को प्रसारित करते समय केवल वास्तविक साक्ष्यों और पुलिस रिपोर्टों को ही सामने रखा है। उन्होंने और चैनल ने कभी थरूर को हत्यारा नहीं बताया।

अदालत ने कहा आपने आश्वासन दिया था समाचारों में याची का नाम नहीं लिया जाएगा। अदालत ने कहा आपके मुवक्क्लि को इसका पालन करना होगा। अदालत ने मामले की सुनवाई 16 अगसत तय की है।

थरूर ने अपनी पत्नी की मौत से संबंधित खबरों को गलत तरीके से दिखाने और उनकी बदनामी करने पर चैनल व अर्नब के खिलाफ 2 करोड़ रुपए का मानहानि का मुकदमा दायर किया हुआ है। उन्होंने यह आवेदन उसी याचिका में दायर किया है। संनुदा पुष्कर 17 जनवरी 2014 की रात को दक्षिण दिल्ली में एक पांच सितारा होटल के एक कमरे में मृत पाई गई थी ।

Source: Indiakinews
Click link to read original post
BJP समर्थित रिपब्लिक चैनल वा अर्नब गोस्वामी को हाईकोर्ट ने भेजा नोटिस, गलत रिपोर्टिंग पर जवाब मांगा !