अगर 20 साल पहले रिलीज होती लिपस्टिक अंडर माय बुरका तो कुछ ऐसे होता विरोध

Viral

लिपस्टिक अंडर माय बुरका मूवी रिलीज को तैयार है। Lipistick Under My Burkha controversy से जुड़े कई विवादों से निपटने के बाद इसको रिलीज के लिए हरी झंडी दी गई है। मान लीजिए, ये मूवी 20 साल पहले आई होती तो क्या—क्या रिएक्शन आते। आइए जानते हैं कैसे होता इसका विरोध:

Lipistick Under My Burkha controversy
Lipistick Under My Burkha controversy

 

महिला संगठन

सबसे पहले लिपस्टिक अंडर माय बुरका पर महिला संगठन सड़क पर विरोध प्रदर्शन करना शुरू कर देते। उदाहरण के लिए ममता कुलकर्णी के फिल्मों में उस जमाने में अंग प्रदर्शन करने पर कुछ महिला संगठनों ने उनके घर के बाहर प्रदर्शन किया और महिलाओं के अंडरगारमेंट्स उनके घर में फेंके। हालांकि अब तक किसी भी महिला संगठन ने इसका विरोध नहीं किया है।

अब चोरी हुए मोबाइल को यूज नहीं कर पाएंगे चोर, इस तकनीक से मोबाइल बन जाएगा खिलौना

सामाजिक संगठन

सामाजिक संगठन इस मूवी पर अपना विरोध जताने के लिए यह कहते नजर आते कि पुराणों और अन्य धर्मग्रंथों में महिलाओं की छवि आदर्श महिला की बताई है जबकि इस मूवी में महिलाओं के चरित्र पर उंगली उठाई गई है। हालांकि इस बार भी कुछ आपत्तियां ऐसी आई हैं पर उनको ज्यादा तूल नहीं दिया गया है।

Lipistick Under My Burkha controversy
Lipistick Under My Burkha controversy

भारत में पैसे कमाने वाली एक्ट्रेस ने दिखाई आंख, पीएम मोदी पर की गंदी बात, देखें वीडियो

महिलाएं सिनेमा हाल में

युवा इस मूवी के बारे में सार्वजनिक रूप से बात नहीं करते। करते भी, तो इस मूवी की आलोचना ही होती। महिलाएं सिनेमा हाल में इस मूवी को देखने बिल्कुल नहीं जाती। जाती भी तो वो सिर्फ पूरे हॉल में एक या दो महिलाएं ही होती। हालांकि इस बार तो बहुत सी महिलाओं ने सोशल मीडिया में इसके समर्थन में अभियान चला रखा है।

ड्राइवर की नौकरी: यहां निकली भर्ती, ऐसे करें हिन्दी में एप्लाई

अखबारों में लेख

अखबारों में ऐसे लेख देखने को मिलते जिनमें शायद ऐसे टाइटल होते— कहां जा रहा है हमारा देश, समाज और संस्कृति को ​तोड़ने की कोशिश, जैसा देखोगे चित्र वैसा बनेगा चरित्र,पश्चिमी संस्कृति का भोंड़ा प्रदर्शन आदि आदि। हालांकि इस बार इस मूवी के सब्जेक्ट को महिलाओं की आजादी के संदर्भ में देखा जा रहा है।

एक्ट्रेस शिबानी दांडेकर की बिकनी फोटोज मचा रही कोहराम, देखें हॉट तस्वीरें

जलते निर्माताओं और मूवी स्टार्स के पुतले

चौराहों पर और फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े लोगों के घर के सामने जलते निर्माताओं और मूवी स्टार्स के पुतले। खासकर निर्माता, निर्देशक और स्टार्स के। साथ ही सेंसर बोर्ड और सत्ता में बैठी सरकार को धृतराष्ट्र का नाम दे दिया जाता और उनसे इस्तीफे तक की मांग कर ली जाती। पर अब ऐसा नहीं देखा जा रहा है।

हम प्रगतिशील हो गए हैं। महिलाओं को हर तरह की आजादी मिले, इसके लिए उन मुदृदों को उठाया जा रहा है जिस पर कभी बात करना भी पाप समझा जाता था।

(Disclaimer: The post is written in humorous way for entertainment purpose only and has no relation with actual incidents.)

The post अगर 20 साल पहले रिलीज होती लिपस्टिक अंडर माय बुरका तो कुछ ऐसे होता विरोध appeared first on India Ki News.

Source: Indiakinews
Click link to read original post
अगर 20 साल पहले रिलीज होती लिपस्टिक अंडर माय बुरका तो कुछ ऐसे होता विरोध