National

गुरदीप की गौरवमयी गाथा

नई दिल्ली : आज कल सोशल मीडिया पर किसी लड़की की फोटो किसी वीआईपी के साथ देखें जाने पर कई तरह के कयास लगाए जाते हैं  लेकिन जब हक़ीकत से पर्दा उठता है, तो जो जानकारी सामने आती है,वह दंग करने वाली होती है ऐसी ही पीएम नरेंद्र मोदी सहित दूसरे राष्ट्रों के राष्ट्राध्यक्षों के साथ एक महिला की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है सबको यह जिज्ञासा हुई कि आखिर कौन है यह महिला जो वीवीआईपी लोगों के साथबैठी है

आपको जानकर हैरानी होगी कि पीएम मोदी सहित अमेरिका के राष्ट्रपति रहे बराक ओबामा, पेप्सिको की सीईओ इंद्रा नूयी के साथ दिख रही इस महिला का नाम गुरदीप कौर चावला हैं दरअसल गुरदीप एक अनुवादक (इंटरप्रिटेटर) हैं अपने विदेश दौरे में पीएम मोदी जब हिंदी में सम्बोधन देते हैं, तो यह गुरदीप ही उसका अंग्रेजी में अनुवाद करती हैं

बता दें कि अनुवाद के एरिया में गुरदीप को 26 साल का अनुभव है उनके इस काम की आरंभ 1990 में हिंदुस्तान के संसद भवन से हुई थी तब गुरदीप कौर को संसद भवन में अनुवादक के लिए चुना गया था लेकिन 1996 में उन्होंने यह जॉब छोड़ दी  अपने पति के साथ अमेरिका चली गईंअमेरिका में रह रही इंडियन मूल की गुरमीत कौर चावला इन दिनों अमेरिकन ट्रांसलेटर एसोसिएशन की सदस्य हैं इसके अतिरिक्त वे इंटरप्रिटेशन, ट्रांसलेशन सहित संघीय मामलों  सुपीरियर न्यायालय की भाषा की पास अनुवादक भी हैं

The post गुरदीप की गौरवमयी गाथा appeared first on Poorvanchal Media Group.

Source: Purvanchal media
Click link to read original post
गुरदीप की गौरवमयी गाथा