International

म्यांमार हिंसा के पहले ही महीने में 6,700 रोहिंग्या मुसलमानों ने गंवाई जान

यंगून: डॉक्टर्स विदआउथ बॉर्डर्स (एमएसएफ) ने गुरुवार (14 दिसंबर) को बताया कि म्यांमार के रखाइन राज्य में विद्रोहियों के विरूद्ध सैन्य कार्रवाई के पहले ही महीने में कम से कम 6,700 रोहिंग्या मुसलमान मारे गए थे यह कार्रवाई अगस्त के आखिर में प्रारम्भ हुई थी एमएसएफ के आंकड़े सर्वाधिक अनुमानित मृतक संख्या हैंरखाइन राज्य में हिंसा 25 अगस्त को प्रारम्भ हुई  इसने बड़ा शरणार्थी संकट खड़ा कर दिया जब तीन महीने में 620,000 से अधिक रोहिंग्या मुसलमान म्यांमार से बांग्लादेश चले गए थे संयुक्त देश  अमेरिका ने सैन्य अभियान को मुस्लिम अल्पसंख्यकों का जातीय सफाया बताया था लेकिन हिंसा में मरने वालों की अनुमानित संख्या जारी नहीं की थी

एमएसएफ ने बृहस्पतिवार (14 दिसंबर) को बताया कि कम से कम भी अनुमान लगाए तो भी 6,700 रोहिंग्या हिंसा में मारे गए थे इनमें पांच वर्ष से कम आयु के 730 बच्चे भी शामिल हैं समूह की यह पड़ताल रोहिंग्या शरणार्थी शिविरों में 2,434 से ज्यादा घरों पर किए गए छह सर्वेक्षण से सामने आई है ये सर्वेक्षण एक माह में किए गए थे समूह के मेडिकल निदेशक सिडनी वॉन्ग ने बोला कि हम म्यांमार में हुई हिंसा के पीड़ितों से मिले तथा बात की वे बांग्लादेश में क्षमता से अधिक भरे तथा गंदे शरणार्थी शिविरों में रह रहे हैं

सर्वेक्षण के मुताबिक, 69 प्रतिशत मामलों में मौत गोली लगने से हुई, जबकि नौ प्रतिशत मौतें घरों में जिंदा जलाने से हुईं पांच फीसदी लोगों को पीट पीट कर मारा डाला गया पांच वर्ष से कम आयु के करीब 60 प्रतिशतबच्चों की मौत गोली लगने की वजह से हुई है म्यामां की सेना ने किसी भी तरह का दुर्व्यवहार किए जाने से इंकार करते हुए बोला है कि 376 रोहिंग्या आतंकियों सहित केवल 400 लोगों की मौत कार्रवाई प्रारम्भ होने के शुरुआती कुछ हफ्ते में हुई

The post म्यांमार हिंसा के पहले ही महीने में 6,700 रोहिंग्या मुसलमानों ने गंवाई जान appeared first on Poorvanchal Media Group.

Source: Purvanchal media
Click link to read original post
म्यांमार हिंसा के पहले ही महीने में 6,700 रोहिंग्या मुसलमानों ने गंवाई जान

Samvadata
Samvadata.com is the multi sources news platform.
http://Samvadata.com