Lifestyle

छोटी सी लौंग के फायदे है अनेक, दूर होती है बड़ी से बड़ी बीमारी!

लाइफस्टाइल डेस्क।  मसालों के रुप में काम आने वाली लौंग यों तो रसोई में अक्सर काम में आती है जिसका उपयोग हम अक्सर चाय में पीने के साथ चावल में खाने और सब्जी में डालने के काम भी लेते है। किचन में इस मसाले का उपयोग बेहद ही उपयोगी माना गया है। लौंग हर मौसम में हर उम्र के व्यक्तियों के लिए लाभदायक है पर सर्दी के मौसम में इसकी खास उपयोगिता है क्योंकि इसकी तासीर बहुत गर्म होती है। लौंग के तेल की तासीर काफी गर्म होती है और इस कारण इसे बहुत सावधानी से इस्तेमाल करना चाहिए। जब आप अपनी त्वचा पर इसे लगाएं तो सीधे तौर पर बिना किसी चीज़ के साथ मिलाए न लगाएं।

लौंग स्वास्थ्य के साथ-साथ सौंदर्य के लिए भी काफी फायदेमंद हैं। इसमें प्रोटीन, आयरन, कार्बोहाइड्रेट्स, कैल्शियम, पोटेशियम,सोडियम,विटामिन ए,सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसके इस्तेमान से बडी़ से बडी़ बीमारी दूर हो जाती है। आइए जाने इसके फायदे।

अगर आप अपनी पाचन क्रिया को मजबूत बनाना चाहते है तो नियमित रूप से खाना खाने से पहले 1 लौंग का सेवन करे। रोज सुबह -शाम खाने के पहले इसका सेवन करने से पाचन क्रिया मजबूत हो जायेगी।

अगर आप त्वचा संबंधी समस्याओं जैसे मुंहासों, ब्लैकहेड्स,और व्हाइट हेड्स से परशान हैं तो उपाय लौंग के तेल में छुपा हुआ है। आपको इसको अपने फेसपैक में मिलाकर इस्तेमाल करें क्योंकि यह काफी गर्म होता है और इसको सीधे त्वचा पर नहीं लगाया जा सकता है।

सिरदर्द और खांसी जुखाम की प्रोब्लम के दूर करने के साथ लौंग अपने कई गुणकारी फायदों के चलते इन प्रोब्लम को भी दूर करती है। अगर आपको बार-बार हिचकियां आ रही है तो लौंग आपकी इस प्रोब्लम को दूर करेगी। लौंग में उच्चतम एंटीऑक्सीडेंट जो एलर्जी, माउथवॉश में एंटीसेप्टिक के रूप में बेहद ही उपयोगी है।

आपको हिचकियां आने पर 2-3 लौंग चबाएं और ऊपर से थोडा सा पानी पी लें,आपको काफी आराम मिलेगा। ऐसे में तांबे के बर्तन में लौंग पीस कर और उसमें थोडा शहद मिला कर खाने से लाभ होता है। नासूर होने पर हल्दी में लौंग पीस कर लगाने से नासूर आपकी स्किन पर होने वाले नासूर से काफी आराम मिलेगा।
लौंग का तेल अन्य किसी भी तेल के मुकाबले सबसे ज्यादा एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होता है। एंटीऑक्सीडेंट स्वस्थ त्वचा और शरीर् को तंदुरुस्त रखने में बहुत कारगर होते हैं। लौंग के तेल में मिनरल्स जैसे पोटेशियम, सोडियम, फॉस्फोरस, आयरन, विटामिन A, और विटामिन C अत्यधिक मात्रा में होते हैं।

Source: Rochak khabare