Viral

योगी सरकार के द्वारा एन्काउंटर्स से कांपे अपराधी, हाथ में लेकर घूम रहे तख्ती…

उत्तर प्रदेश में अपराधियों में एन्काउंटर का कितना खौफ है, इस बात का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि शामली में दो कुख्यात बदमाश हाथ में पोस्टर लिए घूम रहे हैं. मोहम्मदपुर राई के रहने वाले ये दोनों सगे भाई हैं और इनके पोस्टर पर लिखा है कि अबसे से अपराध नहीं करेंगे. उन्हें माफ किया जाए. हाल ही में जेल से छूटकर आए इन दोनों बदमाशों ने एसपी अजयपाल शर्मा को शपथपत्र भी दिया है, जिसमें लिखा है कि वे अपराध छोड़कर बेहतर जीवन जीना चाहते हैं. मामला कैराना कोतवाली इलाके के गांव मोहम्मदपुर राई का है.

किसी जमाने में क्राइम की दुनिया में सिक्का जमा चुके ये भाई इन दिनों कस्बे की गलियों में तख्ती पकड़े घूमते नजर आ रहे हैं. इनका नाम सलीम अली और इरशाद अहमद है. इन पर लूट और हत्या के कई मामले दर्ज हैं. फिलहाल जमानत पर बाहर चल रहे हैं. उन्होंने शामली के एसपी अजयपाल शर्मा को शपथ पत्र दिया है, जिसमें उन्होंने अपराधों से दूर रहने की बात कही है. गौरतलब है कि अजय सिंह को मिस्टर एन्काउंटर के नाम से जाना जाता है. शामली का एसपी बनने के बाद बदमाश छिपते फिर रहे हैं. यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार के 10 महीने के कार्यकाल में अब तक सूबे की पुलिस 1142 एन्काउंटर कर चुकी है. 2744 अपराधियों को गिरफ्तार किया जा चुका है और 34 कुख्यात बदमाश मारे जा चुके हैं.

एन्काउंटर के मामले में सबसे आगे पश्चिमी उत्तर प्रदेश ही है. सिर्फ मेरठ जोन में ही 449 एन्काउंटर्स हुए हैं. यहां 985 को गिरफ्तार किया गया, जबकि 22 अपराधियों को मार गिराया गया और 155 घायल हुए. हालांकि एन्काउंटर्स के दौरान 128 पुलिसकर्मी घायल भी हुए, जिनमें से एक शहीद हो गया. उत्तर प्रदेश पुलिस की जानकारी के मुताबिक 20 मार्च 2017 से 31 जनवरी 2018 के बीच सूबे में कुल 1142 एन्काउंटर्स हुए.

Source: Gorakhpur times