दक्षिण अमेरिकी राष्ट्र वेनेजुएला की आर्थिक दशा बेहद बेकार

International

कराकस : दक्षिण अमेरिकी (Latin America) राष्ट्र वेनेजुएला के आर्थिक दशा बेहद बेकार हो गए हैं। यहां महंगाई आसमान छू रही है। संसार का बड़ा ऑयल भंडार होने के बावजूद पूरा राष्ट्र आर्थिक संकट से जूझ रहा है। इस राष्ट्र के दशा इतने बिगड़ गए हैंImage result for दक्षिण अमेरिकी राष्ट्र वेनेजुएला की आर्थिक दशा बेहद बेकार कि लोग वेनेजुएला को छोड़कर पड़ोसी राष्ट्र कोलंबिया भागने को मजबूर हैं। वेनेजुएला में आलम यह है कि यहां एक ब्रेड की मूल्य हजारों रुपए हो गए हैं। एक किलो मीट के लिए 3 लाख रुपए व एक लीटर दूध के लिए 80 हजार रुपए तक खर्च करने पड़ रहे हैं। यहां की गवर्नमेंट ने संसार भर के राष्ट्रों से गुहार लगाई है कि वे यहां के दशा सुधारने में उनकी मदद करें। वहीं कोलंबिया का कहना है कि चंद दिनों में वेनेजुएला के करीब 10 लाख लोग उसके यहां आकर शरण ले चुके हैं, जिसके चलते उनपर दबाव बन रहा है।

इस वजह से बिगड़े वेनेजुएला के हालात
जानकारों का कहना है कि वैश्विक स्तर पर कच्चे ऑयल की कीमतों में भारी गिरावट आने के चलते वेनेजुएला में आर्थिक संकट आया है। साथ ही ये भी बोला जा रहा है कि यहां के गवर्नमेंट की गलत नीतियों के चलते भूखमरी के दशा बने हैं। इस मुश्किल हालात से राष्ट्र को निकालने के लिए वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस माडुरो राजधानी कराकस में लगातार बैठकें कर रहे हैं। वे संसार भर के बड़े राष्ट्रों से आग्रह कर चुके हैं कि वे मदद को आगे आएं।

22 अप्रैल को राष्ट्र में होंगे चुनाव
वेनेजुएला की राष्ट्रीय निर्वाचन परिषद (सीएनई) ने ऐलान किया है कि राष्ट्र में राष्ट्रपति चुनाव 22 अप्रैल को होंगे। खबर एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, बुधवार को हुई यह घोषणा सत्तारूढ़ नेशनल कंस्टीट्यूएंट असेंबली (एएनसी) के उस निर्णय के अनुरूप हुई, जिसमें राष्ट्रपति चुनाव 30 अप्रैल से पहले कराए जाने की समयसीमा निर्धारित की गई थी। राष्ट्रपति निकोलस मडुरो युनाइटेड सोशलिस्ट पार्टी (पीएसयूवी) की ओर से दोबारा इस पद के लिए चुनाव लड़ेंगे। मडुरो ने तीन फरवरी को सीएनई से बिना किसी देरी के चुनाव की तारीख निर्धारित करने का आग्रह किया था।

पेरू ने वेनेजुएला को दिया गया निमंत्रण वापस लिया
पश्चिमी गोलार्ध के नेताओं के सम्मेलन के मेजबान पेरू ने वेनेजुएला के नेता निकोलस मादुरो को इस सम्मेलन में शामिल होने के लिए भेजा गया निमंत्रण वापस ले लिया है। मादुरो की अपने राष्ट्र में शीघ्र राष्ट्रपति चुनाव कराने की योजना की वजह से यह निमंत्रण वापस लिया गया है। पेरू के विदेश मंत्री केयेताना अल्जोविन ने ‘समिट ऑफ द अमेरिकाज’ के लिए मादुरो को भेजा गया निमंत्रण वापस लेने का ऐलान करते हुए बोला ‘‘अब मीटिंग में उनकी उपस्थिति का स्वागत नहीं किया जाएगा। ’ इस सम्मेलन को लातिन अमेरिका व कैरेबिया में अमेरिकी नेतृत्व के प्रमुख मंच के रूप में देखा जाता है।

वेनेजुएला में गवर्नमेंट समर्थित चुनाव अधिकारियों ने हाल ही में यह घोषणा की है कि राष्ट्र में राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव 22 अप्रैल को आयोजित होगा। हालांकि पारंपरिक रूप से चुनाव का आयोजन वर्ष के अंत में होता है।

यह घोषणा गवर्नमेंट व राजनीतिक विपक्षी नेताओं के बीच इस मुद्दे पर वार्ता समाप्त होने के कुछ ही घंटे बाद की गई कि स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव कैसे कराए जाएं।

अमेरिका ने बोला है कि वह चुनाव को खारिज कर देगा। लातिन अमेरिका में वेनेजुएला के पड़ोसी राष्ट्रों व कुछ यूरोपीय राष्ट्रों ने अमेरिका के इस कथन के लिए उसकी आलोचना की है।

The post दक्षिण अमेरिकी राष्ट्र वेनेजुएला की आर्थिक दशा बेहद बेकार appeared first on Poorvanchal Media Group.

Source: Purvanchal media