गगहा में मारपीट की तहरीर देने जा रही महिला हुई अचेत,गगहा थाना प्रभारी ने तब किया मानवता का कार्य

Viral

आधे घंटे सड़क पर अचेत पडी रही महिला ।
सुचना पर
थाना प्रभारी गगहा ने सरकारी जीप से भेजा अस्पताल

गगहा थाना क्षेत्र के अस्थौला निवासी साधना देवी पत्नी राजेश शनिवार को मारपीट की तहरीर देने गगहा थाने पर जा रही थी कि गगहा थाने से 10 कदम पहले भारतीय स्टेट बैंक के सामने सड़क पर अचेत होकर गिर गयी और उसके तीन छोटे छोटे बच्चे आंचल 8 वर्ष, अंतरा 6 वर्ष व नैतिक 4 वर्ष मां के पास रो रहे थे लेकिन किसी ने ध्यान नही दिया ।आधे घंटे बाद उधर से गुजर रहे कुछ पत्रकार साथियो ने इसकी सुचना 108 न एम्बुलेंस को दी लेकिन वह खाली नही थी ।फिर इसकी सुचना गगहा थाना प्रभारी जैनेंद्र कुमार सिंह को दी तो उन्होंने उस महिला को सरकारी जीप से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गगहा भिजवाया ।अचेत पडी महिला की 8 वर्षीय पुत्री आंचल ने बताया कि शिवरात्रि के दिन मेरी मां को मेरे बाबा, दादी, चाचा व बुआ ने मिलकर मारा पीटा था जिसमे मेरी मां को काफी चोटें आयी थी ।गगहा पुलिस ने एन सी आर दर्ज कर आरोपी को 151 मे पाबंद भी किया था लेकिन शनिवार की सुबह पुनः उसी बात को लेकर फिर मारे पीटे है ।मां गगहा थाने पर तहरीर देने जा रही थी कि अचानक सड़क पर अचेत होकर गिर गई ।मेरे पापा दिल्ली रहते हैं ।मेरे बाबा अक्सर मेरी मां को मारते पीटते रहते हैं ।शिशु शाही।

Source: Gorakhpur times