कुमार विश्वास का तंज़: चार साल पहले जहां गड्ढा था, आज भी है

National

अमेठी: मंच कवि सम्मलेन का सजा था और उस पर राजनैतिक तीर चल रहे थे। योद्धा थे आप नेता कुमार विश्वास।  उन्होंंने प्रधानमंत्री से लेकर कांग्रेस अध्यक्ष तक पर एक के बाद एक पर शब्द बाण चलाये। वो यहीं तक सीमित नहीं हुए बल्कि उन्होंंने अपने पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह पर भी अपने बयान की फुलझड़ियां छोड़ी। प्रधानमंत्री पर तंज़ कसते हुए उन्होंंने कहा कि इनकी सरकार आने के बाद भी चार साल पुराने गड्ढे सड़कों पर है।

चार साल पहले सड़क पर जहां गड्ढा था वही हैं
कुमार विश्वास ने कांग्रेस अध्यक्ष एवं अमेठी सांसद राहुल गांधी पर भी शब्द बाण छोड़ें। कहा कि अमेठी ने अपनी विरासत और अपनी आन-बान-शान उसी तरह से बना रखी है। चार साल पहले सड़क पर जहां गड्ढा था वही हैं। सड़क टूटी हुई है। पिछले 40 साल से जो इस महान राजनीतिक संस्कृत को सुरक्षित रखे हैं इसके लिये मैं अमेठी के धैर्यवान लोगों को बहुत-बहुत प्रणाम करता हूं।

पिछली बार जोड़ा तो माल्या लेकर भाग गया, इस बार नीरव मोदी

ज़िले के शिवदुलारी डिग्री कॉलेज में आयोजित कवि सम्मेलन के मंच से आप नेता ने कहा कि नीरव मोदी पैसे लेकर भाग गया, लोग बेचारे मोदी जी को गाली दे रहे। अजीब-अजीब बातें कर रहे प्रधानमंत्री जी के लिये, ग़लत बात है।
प्रधानमंत्री जी बेचारे साल-डेढ़ साल में हमारे 15 लाख लौटने के लिए पैसा जमा करते हैं कोई न कोई लेकर भाग जाता है।

वो कई साल से पैसा जोड़ रहे हैं, पैसे ही नहीं जुड़ पा रहे। 
उन्होंंने कहा की पिछली बार जोड़ा तो  माल्या लेकर भाग गया, इस बार नीरव मोदी लेकर। और हम लोग इंतेज़ार कर रहे 15 लाख वापस आये।

जितने संजय नाम के है उन्हें राज्यसभा भिजवा सकूं, मैं इसी काम आता हूं
आप नेता केवल प्रधानमंत्री और कांग्रेस अध्यक्ष तक पर तंज़ कस कर थके नहीं बल्कि अपनी पार्टी के नेता पर वो एक बार फिर खुलकर हमलावर हुए। वो ऐसे की उन्होंंने अमेठी के लोगों से कहा कि आपको मेरा इसलिये सम्मान करना चाहिये कि मैं इस देश की राजनीति का सबसे कम उम्र का आडवाणी हूं, और ये कोई और कहे इससे पहले मैं कह दूं।

उन्होंंने कहा कि पिछली बार जब मैं चुनाव लड़ने आया था तो पूज्य पिता जी को राज्यसभा मिल गई, उनका ये इशारा कांग्रेस के राज्यसभा सांसद डा. संजय सिंह की ओर था। कुमार विश्वास ने फिर कहा कि मेरे नाम के कारण दूसरे नामधारी को भी मिल गई। उन्होंंने कहा मैं इसी काम में आता हूं कि जितने संजय नाम के है उन्हें राज्यसभा भिजवा सकूं। और उनके हर एक तंज़ पर अमेठी के लोग लोटपोट होते रहे।

The post कुमार विश्वास का तंज़: चार साल पहले जहां गड्ढा था, आज भी है appeared first on Newstrack Hindi.

Source: Newstrak hindi