इंडियन महिला ने वीडियो जारी कर मंत्री सुषमा स्वराज से लगाई मदद की गुहार

National

बिलासपुर, शैलेंद्र सिंह ठाकुर। अमेरिका में अपने 4 वर्ष के बच्चे के साथ फंसी एक इंडियन महिला ने वीडियो जारी कर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मदद की गुहार लगाई है। महिला ने वीडियो में बताया कि उसके पति ने उसे घर से निकाल दिया। न्यायालय ने उसका वीजा व पासपोर्ट भी जब्त कर लिया गया है जिसके बाद उसे जॉब से निकाल दिया गया। वह अपने राष्ट्र लौटना चाहती हैImage result for पति ने घर से निकाला, पासपोर्ट भी जब्त, अमेरिका में रह रही इंडियन महिला ने वीडियो जारी कर मांगी मदद

दरअसल, मामला अमेरिका के बाल्टीमोर शहर का है। यहां चार साल के मासूम बेटे के साथ एक इंडियन मां बीते 8 महीने से बिना वीजा के रह रही है। महिला का नाम निधि है। उसने अपने पति डी रविशंकर पर घर से निकाल देने का आरोप लगाया है। पति ने महिला पर केस कर न्यायालय से बच्चे की कस्टडी भी ले ली है। महिला ने वीडियो में बताया है कि न्यायालय ने बच्चे को एक सप्ताह उसके व एक सप्ताह पति के पास रखने का आदेश दिया है। इतना ही नहीं मामले में महिला का वीजा व पासपोर्ट भी जब्त कर लिया गया जिसके चलते उसे अपनी जॉब गंवानी पड़ी।

ग्रीनकार्ड धारक है महिला का पति
बिलासपुर में रहे निधि के मां-बाप चाहते हैं कि उनकी बेटी व पोता सकुशल घर वापस आ जाएं। पीड़ित परिवार ने पीएम नरेंद्र मोदी व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को ट्वीट कर मदद की गुहार लगाई है। निधि की मां वी गीतांजलि ने बताया कि निधि की विवाह साल 2012 में विशाखापट्टनम निवासी डी रविशंकर से हुई थी। रविशंकर अमेरिका के बाल्टीमोर शहर में एक मल्टीनेशनल कंपनी में कार्य करता है। वह ग्रीनकार्ड धारक है।

उन्होंने बताया कि बेटे के जन्म के बाद से ही रविशंकर व निधि के बीच टकराव होने लगा। टकराव बढ़ने पर उसके पिता अमेरिका गए व बेटी व पोते को वापस ले आए। एक वर्ष यहां रहने के बाद निधि ने अपने पति से वीजा रिन्यू कराने को बोला तो उसने मना कर दिया।

पति ने मां बेटे को घर से निकाला
निधि की मां ने बताया कि उसके पिता ने एसबीआई से 18 लाख रुपए का शिक्षा लोन लिया व दोनों को अमेरिका छोड़ने गए। वी गीतांजलि ने बोला कि पिता के वापस लौटते ही दामाद ने बेटी व पोते को घर से निकाल दिया। तब से लेकर आजतक निधि अपने बेटे के साथ अलग रह रही है। अब कठिनाई ये कि वीजा जब्त होने के बाद उसकी जॉब भी चली गई है। अब भूखों मरने की नौबत आ गई है।

अमेरिका में नहीं मिली मदद तो वीडियो जारी किया
जानकारी के मुताबिक 9 जून 2017 को न्यूजर्सी समरसेट स्थित सुपीरियर न्यायालय ने एक आदेश जारी किया। न्यायालय का आदेश ई-मेल के जरिए भेजा गया। इसमें साफ शब्दों में लिखा है कि निधि और उसका बेटा साकेत राष्ट्र छोड़कर नहीं जा सकते। न्यायालय के आदेश के बाद कानूनी सहायता के लिए निधि ने एंबेसी से संपर्क किया, पर उसे कोई कानूनी सहायता नहीं मिली।

अधिकारियों ने दिया मदद का आश्वासन
मामले में बिलासपुर के सांसद ने लखनलाल साहू का कहना है कि जानकारी मिलने के बाद मैंने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को चिट्ठी लिखी है। वह मामले को सज्ञान में ले रही हैं। वहीं बिलासपुर एसपी आरिफ शेख ने बोला कि मामले को उच्च अधिकारियों के समक्ष रखा जाएगा व निधि की हर संभव मदद की जाएगी।

The post इंडियन महिला ने वीडियो जारी कर मंत्री सुषमा स्वराज से लगाई मदद की गुहार appeared first on Poorvanchal Media Group.

Source: Purvanchal media