गर्मी में हो सकता है हैजा, बचने के लिए अपनाएं ये घरेलू उपाय

Lifestyle

इंटरनेट डेस्क। सर्दी का मौसम लगभग समाप्त हो चूका है और गर्मी ने दस्तक दे दी है। गर्मी के मौसम में हम अक्सर बीमार हो जाते है और बहुत सी बीमारियों का प्रकोप बढ़ जाता है। ऐसे में एक आम बीमारी है कालरा यानि हैजा|जो बहुत ही खतरनाक बीमारी होती है अगर समय से इसका इलाज न हो तो ये बहुत बड़ी बीमारी बन जाती है। गंभीरता से ना लिया जाए तो ये जानलेवा भी हो सकता है। यह एक एक संक्रामक रोग है जो अकसर दूषित खाने और पीने से होता है। पीने के पानी के पाईप गंदी नालियों में होकर जाने से गंदगी पानी के साथ प्रवेश कर जाती है। हैजा का इलाज करने से पहले रोगी को साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखना हाहिए। हैजा अकसर साफ-सफाई की कमी के कारण भी फैलता है। हैजा होने पर निम्न उपाय अपनाने चाहिए।

एक गिलास पानी में एक नींबू निचोड़ लें। इसमें एक चम्मच पिसी मिश्री मिलाकर शिकंजी बना लें। प्रतिदिन इसका सेवन आपको हैजा से बचाएगा।

पानी में फिनाइल डालकर फर्श को साफ करें, ऐसा करने से कीटाणु मर जाते हैं।

हैजा में रोगी को नींबू पानी या पानी में नारियल पानी मिलाकर पिलाना चाहिए, ताकि उल्‍टी के साथ दूषित चीजें बाहर निकल जाएं।

पानी में लौंग उबालकर पिलाने से तत्‍काल आराम मिलता है और हैजा ठीक हो जाता है।

अदरक को कद्दूकस करके शहद के साथ मिलाकर खाएं। यदि शौच में खून के धब्बे आ रहे हों तो अदरक न खाएं।

कपूर हमेशा साथ रखने से भी हैजा अपना असर नहीं दिखाता।

साफ-सफाई तथा शुद्ध पेयजल उपयोग में लाएँ। कुओं की बजाय हैंडपंप का पानी अपेक्षाकृत शुद्ध होता है। यह उपलब्ध न हो तो पानी को उबालकर ठंडा करके पिया जाए।

Source: Rochak khabare