रूस के विरूद्ध उठाया गया जवाबी कदम

International

वाशिंगटन: अमेरिकी गवर्नमेंट के एक शीर्ष ऑफिसर ने बोला कि रूस के 60 राजनयिकों के निष्कासन का मकसद हिंदुस्तान जैसे राष्ट्र को कोई संदेश देना नहीं है जिसका मॉस्को  वाशिंगटन के साथ समान रिश्ता है ब्रिटेन में एक पूर्व रूसी जासूस को जहर देने के मामले पर अमेरिका ने‘‘ खुफिया अधिकारी’’ बताते हुए रूस के60 राजनयिकों को निष्कासित कर दिया  सीएटल में राष्ट्र के वाणिज्य दूतावास को बंद करने का आदेश दिया है 

Image result for रूस

‘हमारा इरादा हिंदुस्तान जैसे राष्ट्र को कोई विशेष संदेश देने का नहीं है’ 
ट्रंप प्रशासन के एक वरिष्ठ ऑफिसर ने पहचान जाहिर नहीं करने की शर्त पर कहा, ‘‘ हमारा इरादा हिंदुस्तान जैसे राष्ट्र को कोई विशेष संदेश देने का नहीं है हिंदुस्तान के साथ हमारी करीबी असरदार भागीदारी है मॉस्को की ओर से उठाए गए विभिन्न कदमों को लेकर यह है  हमारा संदेश रूसी संघ के नेताओं के लिए है ’’ अमेरिका  रूस दोनों के साथ मजबूत संबंधों वाले हिंदुस्तान जैसे राष्ट्रों पर ट्रंप प्रशासन के हालिया निर्णय के प्रभाव संबंधी एक सवाल का वह जवाब दे रहे थे 

अमेरिका ने रूस के 60 राजनयिकों को निष्कासित किया 
बता दें अमेरिका ने सोमवार को  रूस के 60 राजनयिकों को खुफिया ऑफिसर बताते हुए निष्कासित कर दिया इसके साथ ही अमेरिका ने सिएटल स्थित रूस के वाणिज्य दूतावास को बंद करने का भी आदेश दिया है यह कार्रवाई ब्रिटेन में रूस के पूर्व जासूस पर कथित तौर पर मास्को द्वारा किए गए नर्व एजेंट के हमले को लेकर उसकी रिएक्शन है अमेरिका के इस निर्णय ने शीत युद्ध की यादें ताजा कर दी हैं निष्कासित राजनयिकों में से लगभग12 संयुक्त देश में रूस के स्थायी मिशन में पदस्थ हैं

Source: Purvanchal media