Viral

गोरखपुर की इस महिला के संघर्ष को सलाम,आज गोरखपुर ही नहीं पूर्वांचल में है इनका बड़ा नाम:-पति के बिना अपने दम पर लिखी इबारत

गोरखपुर की माटी से जुड़े हुए लोग अपने आप में ऐतिहासिक महत्व रखते हैं गोरखपुर वासियों में वह क्षमता है किवह माटी को सोने में तब्दील कर दे अपनी मेहनत और लगन से आज गोरखपुर वासी हर विधा में वैश्विक स्तर पर नाम कर रहे हैं गोरखपुर टाइम्स बी गोरखपुर के माटी से जुड़ी एक महिला की सच्ची कहानी लेकर प्रस्तुत हुआ है जोकि अपने आप में एक आदर्श है हम बात कर रहे हैं श्रीराम ज्वेलर्स मर्तिया की कर्ता-धर्ता अनिता मर्तिया की

गोरखपुर टाइम्स से बात करते हुए इस संघर्षशील महिला ने बताया कि 2001 में मेरे पति का देहांत हो गया था,वह गोरखपुर में प्रतिष्ठित फर्म के सीईओ थे उनके देहांत के बाद जैसे हमारे ऊपर पहाड़ सा टूट पड़ा उस वक्त मेरे बच्चे की उम्र 8 वर्ष की थीमेरी बेटी भी थी इसको पालने की सारी जिम्मेदारी मेरे ऊपर आ गई 2 साल तक तो सब कुछ ठीक-ठाक रहा परंतु समाज का दबाव मेरे ऊपर लगातार पड़ने लगा और मेरी अंतरात्मा मुझेबार-बार कहने लगी कि आखिर मेरे बच्चों का भविष्य कैसा होगा फिर मैंने सामाजिक बंधनों को तोड़ते हुए और अपने बच्चों के भविष्य हेतु कुछ करने की ठानी और आखिरकार मैंने विचार किया कि मैं आर्टिफिशियल ज्वेलरी की दुकान खोलूँगी।।।

यह सब इतना आसान न था मैं संभ्रांत परिवार में पली-बढ़ी थी और बाहर की दुनिया से विवाहोपरांत मेरा वह नाता नहीं था, परंतु मन में लगन और कुछ करने का जो हौसला था वह मुझे निरंतर आगे बढ़ने को प्रेरित करता रहा।। आखिरकार गोलघर के पास 100 स्क्वायर फीट की एक दुकान मुझे प्राप्त हुई और वहां से मैंने अपने जीवन के संघर्षों की गाथा लिखनी शुरू की,मैंने उस वक्त एक चमत्कारिक शब्द दिया “चार चूड़ियां 1 ग्राम में”यह शब्द वास्तव में इतना चमत्कारिक था कि मेरे दुकान की बिक्री लगातार बढ़ने लगी और इसका भी खामियाजा मुझे भुगतना पड़ा क्योंकि मेरे किराएदार ने मेरी दुकान की बिक्री को देखते हुए मुझे दुकान से हटने का आदेश दे दिया मैं इसके बावजूद भी नहीं टूटी और मैं संघर्ष की गाथा निरंतर लिखने लगी आखिरकार मेरे शुभचिंतकों ने मुझे यह सलाह दी कि आप आर्टिफिशियल ज्वेलरी जब इतने अच्छे से बेच ले रही हैं तो आप सोने चांदी का भी व्यवसाय करें और मुझे यह विचार उत्तम लगा मैंने अपने पति श्री राम जी के नाम पर एक ब्रांड की शुरुआत की।।

आज राम ज्वेलर्स गोरखपुर ही नहीं वरन पूर्वांचल का सबसे प्रतिष्ठित ब्रांड है इससे जुड़ा नाम मरतिया के बारे में अनीता जी बताती है कि मरतीया मेरा सरनेम है जिसका उपयोग हमारे यहां किया जाता है।

आज गोरखपुर के हर वर्ग को आप श्री राम ज्वेलर्स  के पास आते हुए देख सकते हैं,इससे जुड़ी अनिता मर्तियां बताती हैं कि हमारे यहां एक गरीब तबके से लेकर उच्चवर्गीय तबका अपनी जरूरत का सामान लेने आता है और हमारे यहां कम दाम में बेहतर गुणवत्ता के गहने आपको प्राप्त होते हैं।।श्रीराम ज्वेलर्स आज गोरखपुर के प्रत्येक वर्ग की पसंद है और आज भी हमारे यहां 25,000 के गहनों की खरीद पर 4000 की चांदी की पायल मुफ्त मिलती है।।

Source: Gorakhpur times