वाजपेयी के निधन की अफवाह फैली और सोशल साइट पर श्रद्धांजलि का तांता लग गया

National
जयपुर: राजस्थान के जयपुर और आसपास के इलाकों में पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी के निधन की अफवाहें फैलती रहीं और लोगों ने उन्हें वाट्सएप ग्रुप में श्रद्धांजलि देने का तांता लगा रहा।
कल गुरूवार 29 मार्च को उनके मौत की अफवाह फैली जो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई थी। कुछ लोग इस अफवाह को सच मान बैठे और संवेदना व्यक्त करने लगे।
ये कोई पहली बार नहीं है कि किसी बडे नेता के मौत की अफवाह फैली हो। साल 1978 में मुम्बई के जसलोक अस्पताल में भर्ती लोकनायक जयप्रकाश नारायण के निधन की अफवाह फैल गई थी। उसवक्त सोशल मीडिया का जमाना भी नहीं था । खासकर अटल बिहारी वाजपेई के साथ तो ऐ कइ्र बार हो चुका है।
साल 2015 में उड़ीसा के बालासोर जिले में एक प्राइमरी स्कूल के प्रिंसिपल ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन के बारे में सूचना दी थी। प्रिंसिपल को एक ट्रेनिंग प्रोग्राम में उनके साथियों ने गलत सूचना दे दी थी, जिसे बिना वेरिफाई किए उन्होंने श्रद्धांजलि सभा रख दी थी। श्रृध्दांजलि सभा के बाद स्कूल के बच्चों को छुट्टी भी दे दी गई थी। कलेक्टर को सूचना लगने पर प्रिंसिपल को निलंबित कर दिया गया था।

Source: Hindi Newstrack