नुसरा फ्रंट के आतंकवादी संगठन पर प्रतिबंध

International

संयुक्त राष्ट्र: संयुक्त देश सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) ने अल- नुसरा फ्रंट से संबद्ध एक आतंकी गुट पर प्रतिबंध लगाया है इसके तहत गुट पर हथियार एवं यात्रा प्रतिबंध लगाया गया है उसकी संपत्ति भी जब्त की जाएगी यह आतंकी संगठन पहले अफगानिस्तान पाक की सीमा में स्थित एक इलाके में सक्रिय था परिषद की आईएसआईएल (दाएश) एवं अल- कायदा प्रतिबंध समिति ने गुरुवार (9 मार्च) को खातिबा इमाम अल- बुखारी का नाम समिति की ‘प्रतिबंधित व्यक्तियों एवं समूहों’ की सूची में डाला इस सूची में शामिल लोगों  समूहों की संपत्ति जब्त कर ली जाती है  उन पर यात्रा एवं हथियार प्रतिबंध लगाये जाते हैं

Image result for नुसरा फ्रंट के आतंकवादी संगठन पर प्रतिबंध

समिति की प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार समूह को खातैब अल- इमाम अल- बुखारी के नाम से भी जाना जाता है पहले यह समूह अफगानिस्तान- पाक की सीमा पर स्थितइलाके में सक्रिय था  बताया जाता है कि इस महीने उसके सीरिया में होने की सूचना थी जहां वह इदलिस, अलेप्पो  खामाइलाके में सक्रिय था विज्ञप्ति के अनुसार अल- नुसरा फ्रंट फॉर दी पीपल ऑफ द लेवांत से संबद्ध अल- बुखारीने सीरियाई अरब गणराज्य मेंकई आतंकी हमलों को अंजाम दिया

इससे पहले बीते 25 जनवरी को अमेरिकी वित्त विभाग ने छह ऐसे लोगों पर प्रतिबंध लगाने का घोषणा की थी जो कथित रूप से तालिबान  अफगान आतंकवादी समूह हक्कानी नेटवर्क से जुड़े हुए थे खबर एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, विभाग ने छह लोगों, जो या तो पाकिस्तानी हैं या अफगानिस्तानी हैं  पाक में रह रहे हैं, की अमेरिकी वित्त प्रणाली तक पहुंच पर रोक लगा दी थी

अमेरिकी वित्त विभाग की अंडर सेक्रेटरी सिगल मैंडेलकर ने बोला था, “आज की यह कार्रवाई राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की दक्षिण एशिया रणनीति को समर्थन देती है ” मैंडेलकर ने बोला था, “पाकिस्तानी गवर्नमेंट को तालिबान  हक्कानी नेटवर्क को पनाह देने से मना करने  आतंकियों को दी जाने वाली वित्तीय सहायता को निशाना बनाने के लिए हमारे साथ कार्य करना चाहिए ”

अमेरिकी गवर्नमेंट द्वारा पाक को दी जाने वाली वित्तीय सहायता में कटौती करने के तीन हफ्ते बाद यह प्रतिबंध सामने आया है अमेरिका ने पाक पर इन समूहों के विरूद्ध ठोस कार्रवाई करने में विफल रहने का आरोप लगाते हुए सहायता में कटौती कर दी थी

The post नुसरा फ्रंट के आतंकवादी संगठन पर प्रतिबंध appeared first on Poorvanchal Media Group.

Source: Purvanchal media