अजब-गजब: ये अपनी ज़ुबान से खेलते हैं कैरम– News18 Hindi

Viral

इंसान की ज़ुबान फिसल जाए तो जाने क्या-क्या हो जाता है, लेकिन आज हम एक ऐसे वंडर ब्वॉय से मिलवाने जा रहे हैं. जिसकी ज़ुबान चलती है तो तस्वीरें बन जाती हैं और उसकी ज़ुबान से तो कैरम बोर्ड की गोटियां भी नाचने लगती हैं. इतना ही नहीं वो ज़ुबान से पढ़ने-लिखने तक का काम कर लेता है.

ये हैं मध्य प्रदेश के बैतूल जिले का वंडरब्वॉय प्रिंस उइके. ये जीभ और होठों को एक साथ चिपका कर कैरम खेलते हैं. शायद ही ऐसे कैरम प्लेयर को आपने पहले कभी देखा होगा. न उंगलियों का इस्तेमाल और न किसी पेशेवर खिलाड़ी की तरह खेलने का अंदाज़ लेकिन प्रिंस कैरम के ऐसे महारथी हैं कि पल भर में माहिर खिलाड़ियों को भी मात दे देते हैं.

यही नहीं, नन्हे प्रिंस अपने मुंह में पेंसिल या पेन दबाकर ऐसे ख़ूबसूरत स्केच बनाते हैं, जैसे वो सधे हुए चित्रकार हों. ये सब करके प्रिंस कोई रिकॉर्ड नहीं बना रहे हैं, न ही उन्हें मुंह से लिखने-पढ़ने या फिर चित्रकारी करने का शौक़ है बल्कि ये उसकी मजबूरी है, क्योंकि प्रिंस जन्म से ही दिव्यांगता के शिकार हैं.

बचपन में ही उनके दोनों हाथ और पैरों में मांसपेशियों का विकास थम गया. जिससे वो न तो चल-फिर सकते हैं और न ही उनके हाथों में जान है कि वो कुछ कर सकें. हाथ-पैर के अलावा प्रिंस का पूरा शरीर एकदम सामान्य है लेकिन उनकी हाथ-पैर की मांसपेशियां काम करने लायक नहीं हैं.

इतने सब के बावजूद ये अपने पक्के इरादे से अपना सारा काम कर लेते हैं. उनका हौसला हिमालय की तरह मजबूत है. जिसके बूते वो पढ़ाई-लिखाई और खेलकूद के सारे काम बड़े आसानी से कर लेते हैं.

अपनी इसी इच्छाशक्ति के बल पर आज वो बैतूल के वंडरब्वॉय के नाम से जाने जाते हैं. प्रिंस की इस अजब-गज़ब ज़िन्दगी को देखने के बाद ये तो तय हो जाता है कि ऐसे नौनिहाल वाक़ई बदलते भारत की बेमिसाल तस्वीर हैं.

Source link

قالب وردپرس

Source: Gorakhpur times