विदेशी विद्यार्थियों को 160 संस्थानों में पढ़ाई का मौका

National

स्टडी इन इंडिया एक आह्वान  आमंत्रण है. इसका मतलब आओ हिंदुस्तान में पढ़ो है. इस योजना में विदेशी विद्यार्थियों को उच्च एजुकेशन में गुणवत्ता और सस्ती एजुकेशन देने के लिए हिंदुस्तानद्वारा न्योता दिया जा रहा है. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने स्टडी इन इंडिया प्रोग्राम की आरंभ करते हुए यह बातें कहीं.
Image result for विदेशी विद्यार्थियों को 160 संस्थानों में पढ़ाई का मौका

इस दौरान उन्होंने बोला कि विदेश मंत्रालय सरकारी समझौते के बंधन में छह हजार सीटों पर ही विदेशी विद्यार्थियों को स्कालरशिप के लिए बुलाता है, लेकिन मानव संसाधन विकास मंत्रालय बंधन मुक्त होकर उच्च एजुकेशन का सपना पूरा करने का न्यौता दे रहा है.

30 राष्ट्रों के प्रतिनिधि पहुंचे
इंडिया हेबिटेट सेंटर में बुधवार शाम स्टडी इन इंडिया प्रोग्राम का आगाज हुआ. जिसमें 30 राष्ट्रों के प्रतिनिधि भी शामिल हुए. केंद्रीय मंत्री सुषमा ने बोला कि हिंदुस्तान ने संसार की तीसरी सबसे बड़ी उच्च एजुकेशन व्यवस्था को विदेशी विद्यार्थियों के लिए खोल दिया है. मानव संसाधन विकास राज्यमंत्री डा सत्यपाल सिंह ने बोला कि पुणे  दिल्ली के साथ हिंदुस्तान पूर्व का ऑक्सफोर्ड बनेगा.

उच्च एजुकेशन सचिव आर सुब्रमण्यम के मुताबिक, फीस में तीन वर्ग बनाए गए हैं. 25 प्रतिशतविद्यार्थियों की पचास फीसदी, अन्य 25 की 75 प्रतिशत फीस माफ होगी. योजना में योगदान कर रहे एडसिल के चेयरमैन दीप्तिमान दास के मुताबिक, अगले पांच वर्ष में विदेशी विद्यार्थियों की संख्या दो लाख रुपये तक बढ़ाने का लक्ष्य रखा गया है.

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर ने बोला कि, हिंदुस्तान एक बार फिर एजुकेशनके एरिया में संसार का प्रतिनिधित्व करेगा. नालंदा और तक्षशिला में विदेशी विद्यार्थी आते थे, लेकिन उसके बाद इंडियन विद्यार्थियों ने अमेरिका  आस्ट्रेलिया की राह थामी. इस योजना में विद्यार्थियों को इंजीनियरिंग, मेडिकल, फार्मेसी, आर्किटेक्चर, जनरल स्ट्रीम में दाखिले संग रिसर्च और इंनोवेशन का मौका मिलेगा. इस योजना में एशियन, आसियान, अफ्रिकन , मिडिल ईस्ट राष्ट्रोंके विद्यार्थियों को सीधा फायदा मिलेगा.

The post विदेशी विद्यार्थियों को 160 संस्थानों में पढ़ाई का मौका appeared first on Poorvanchal Media | Purvanchal News | UP News | Hindi Khabare |.

Source: Purvanchal media