यूपी: बिना आधार के ही राशन ले रहे सात लाख कार्डधारक, सरकार मई से कराएगी जांच

National

लखनऊ: प्रदेश में करीब 7 लाख राशनकार्ड धारको की रेंडम जांच मई के पहले सप्ताह से शुरू होगी। जो कार्ड धारक समय से अपना आधार राशनकार्ड से लिंक नहीं कराएंगे उनके कार्ड निरस्त भी हो सकते हैं. आप भी जानें क्या है पूरा मामला।

HEALTH: आप भी खाते हैं खीरा तो जान लीजिए इसके फायदे के साथ नुकसान

कालाबाजारी पर लगेगी रोक
अपर आयुक्त खाद्य एवं रसद विभाग अनूप शंकर के अनुसार राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के सभी लाभार्थियों से आधार नंबर लिया जा रहा है। ऐसा इसलिए किया जा रहा है ताकि राशन वितरण प्रणाली को पारदर्शी बनाने के साथ ही पात्र लाभार्थियों को राशन मिल सके। राशन की कालाबाजारी को रोका जा सके और वास्तविक हकदारों को उनके हिस्से का राशन बिना किसी समस्या के मिल सके।

‘शाहिद’ ने खोला ‘मीरा’ का राज, फिर ऐसे सुनाई ‘FANS’ को खुशखबरी…

इ-पॉज मशीन में वितरण
अधिकारीयों ने बताया कि शहरी क्षेत्रों में कई महीनों से ई-पॉश मशीनों से राशन वितरण किया जा रहा है। अभी हुई समीक्षा में पाया गया कि प्रदेश में 6 लाख 39 हजार 397 कार्डधारक अभी तक अपना आधार नंबर नहीं दे पाए हैं। इससे गड़बड़ी की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता है। इसलिए अब टीम बनाकर अलग अलग जिलों में जांच की जाएगी और जो भी अपात्र और दोषी मिलेंगे उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

यूजर हों या न हों, फेसबुक को है आपकी पूरी जानकारी

डीएसओ देंगे जवाब
अधिकारीयों ने बताया सभी जिलों के डीएसओ से फीडबैक लिया जायेगा। जिसमे कार्डधारकों का आधार नंबर फीड करवाने के अब तक क्या प्रयास की जानकारी ली जाएगी। गलत नंबर को सही करने के लिए क्या किया गया। इ पॉज मशीन के बारे में लोगों को कितना जागरूक किया गया। ऐसे ही सवालों से हर जिले की जांच होगी और कालाबाजारी पर पूरी तरह से रोक लगाई जाएगी।

The post यूपी: बिना आधार के ही राशन ले रहे सात लाख कार्डधारक, सरकार मई से कराएगी जांच appeared first on Newstrack Hindi.

Source: Hindi Newstrack