‘टूथपेस्ट’ में नमक तो है, पर आपको ‘COLGATE’ की ‘सफलता’ की खबर नहीं, जानें यहां

National

लखनऊ: हर किसी की सफता के पीछे कोई न कोई बड़ी कहानी होती है जो उसके संघर्ष को बयां करती है। ऐसे ही कहानी है कोलगेट (टूथपेस्ट) की जो आजकल कल हर तीसरे घर में लोग इस्तमाल करतें हैं, जिनका भरोसा है कोलगेट। जो कभी छोटी सी कांच की शीशी में आता था आज बेहद अच्छी पैकिंग से अपनी सफता को दर्शाता है। अगर इसकी सफलता की कहानी को अपनी ज़िन्दगी से जोड़ा जाए तो हार मान चुके लोगों को एक बार फिर से बढ़ने की प्रेरणा ज़रूर मिलेगी।

कोलगेट टूथपेस्ट का नाम उसके मालिक विलियम कोलगेट से पड़ा जिन्होंने 16 साल कि उम्र में अपना घर छोड़ अपने काम को बढ़ाया।

ये भी पढ़ें:पैरेंटिंग:आपके बच्चे में नहीं है शेयरिंग के गुण तो ये TIPS सिखाएंगे उनको बांटने की आदत

दरअसल, कोलगेट कंपनी की शुरुआत 210 साल पहले हुई थी तब ये एक छोटी सी कांच कि शीशी में आता था। कोलगेट के फाउंडर का नाम विलियम कोलगेट था 25 ज़नवरी 1783 को इंग्लेण्ड के होलिंगबॉर्न में जन्में विलियम के पिता खेतों में काम करते थे। कुछ साल बाद उनका परिवार अमेरिका शिफ्ट हो गया जहाँ वो ऐसे इंसान से मिले जिन्होंने विलियम के पिता को काम दिया जो मोमबत्तियां बनाने का था। लेकिन कहतें हैं न परेशानी बताकर नहीं आती, कुछ साल बात उनका वो काम भी बंद हो गया।

गरीबी और घर की हालत देख कर 16 साल कि उम्र में विलियम ने काम कि तलाश में अपना घर छोड़ दिया और एक साबुन बनाने वाली फैक्ट्री में काम करने लगे। फिर धीरे धीरे उन्होंने एक बिसनेसमैन को गुणों को सीखा और कंपनी के फायदें और नुख्सान के बारें में भी अपनी समझ बढाई। कुछ टाइम बाद उन्होंने वो कम्पनी भी छोड़ दी।

उसके बाद उन्होंने अपना पुराना काम स्टार्ट किया टूथपेस्ट बनाने का और सीखी हुई चीज़ों को अपनी कम्पनी में इस्तमाल किया। काम में तरक्की और नुख्सान जैसी सभी परेशानियों से लड़ते हुए आज इस मुकाम को हासिल किया है

आपको बता दें, विलियम कोलगेट कि डेथ 25 मार्च 1857 में हुई थी।

The post ‘टूथपेस्ट’ में नमक तो है, पर आपको ‘COLGATE’ की ‘सफलता’ की खबर नहीं, जानें यहां appeared first on Newstrack Hindi.

Source: Hindi Newstrack