राजनाथ सिंह बोले- कैराना लोकसभा उपचुनाव में फूलपुर-गोरखपुर का लेंगे बदला

National

कानपुर: गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने स्पष्ट कहा कि लोकसभा चुनाव अब दूर नहीं है। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) दो मुद्दों सुशासन और विकास के साथ मैदान में उतरेगी l इसके साथ ही उन्होंने कहा, कैराना लोकसभा उपचुनाव में बीजेपी फूलपुर व गोरखपुर उपचुनाव में मिली हार का भी बदला लेगी। हालांकि, राजनाथ सिंह कैराना उपचुनाव में कामयाबी को लेकर आश्वस्त जरूर दिखे।

दरअसल, गृहमंत्री राजनाथ सिंह शुक्रवार (27 अप्रैल) को जिले के श्यामनगर स्थित हरिहर धाम पहुंचे। जहां उन्होंने अपने आध्यात्मिक गुरु द्रष्टा हरिदास के साथ लगभग सवा घंटे बिताए और उनका आशीर्वाद लियाl बता दें, कि राजनाथ सिंह किसी शुभ कार्य शुरू करने से पहले अपने गुरु आशीर्वाद जरूर लेते हैं। अब देखने वाली बात यह होगी कि गुरुजी से मिलने के बाद उनका अगला अगला कदम क्या होगाl

हम सभी पड़ोसी से चाहते हैं बेहतर संबंध
मीडिया से बातचीत में गृहमंत्री बोले, ‘पाकिस्तान की हरकतों का हमारे जवान माकूल जवाब दे रहे हैं। मैं स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि भारत अपनी तरफ से हमला नहीं करता है l’ जब चीन से संबंधों के विषय में पूछा गया तो उन्होंने कहा, कि ‘चीन का ही प्रश्न नहीं है जितने भी हमारे पड़ोसी देश हैं उनके साथ हमलोग रिश्ते बेहतर बना कर रखना चाहते हैं।’

देश में घटा है माओवाद
वहीं, देशभर में नक्सलियों के खिलाफ कार्रवाई पर गृहमंत्री बोले, ‘जहां तक माओवाद का प्रश्न है हमारी सरकार यह चाहती है कि इस समस्या का समाधान हो। हिंसा की राजनीति में न हमने यकीन है न करते हैं और न कभी करेंगे। लेकिन कभी-कभी सेल्फ डिफेंस में हमारे सुरक्षा जवानों को गोली चलानी पड़ती है। लेकिन मैं कह सकता हूं कि देश में माओवाद काफी हद तक घटा हैl’

कश्मीरी पंडितों के विषय में बातचीत जारी है
राम मंदिर मुद्दे पर बोलते हुए राजनाथ ने कहा, ‘राम मंदिर का मुद्दा न्यायालय में विचाराधीन है। हमें कोर्ट के फैसले का इंतजार करना चाहिए l’ एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, कि जनता ने हमें बहुमत दिया है। हम ईमानदारी से काम कर रहे हैं। जब उनसे कश्मीरी पंडितों के विषय में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, कि ‘कश्मीरी पंडितों के विषय में बातचीत चल रही हैl’

The post राजनाथ सिंह बोले- कैराना लोकसभा उपचुनाव में फूलपुर-गोरखपुर का लेंगे बदला appeared first on Newstrack Hindi.

Source: Hindi Newstrack