दु:खद: नहीं रहीं गायिका जरीना बेगम, लखनऊ के कलाकार जगत में शोक

National

लखनऊ देश विदेश में अपनी गायिकी का लोहा मनवाने वाले मशहूर शा‍स्‍त्रीय संगीत गायिका जरीना बेगम (91 वर्ष ) का शनिवार तड़के लखनऊ में निधन हो गया। वह लंबे समय से बीमार चल रही थीं। अपने अंतिम समय में आर्थिक तंगी से जूझ रही जरीना बेगम ने शहर के एक निजी अस्‍पताल में अंतिम सांस ली। इनकी माली हालत देखते हुए  पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव ने राज्‍य सरकार के खर्च पर इनका पूरा इलाज कराने का आदेश दिया था। लंबे समय तक चले इलाज के बाद शुक्रवार को उन्‍होंने दुनिया को अलविदा कह दिया।

बेगम अख्‍तर की शिष्‍या थीं जरीना

जरीना बेगम के दामाद मोहम्‍मद नावेद ने बताया कि जरीना बेगम मूलरूप से बहराइच के नानपारा कस्बे की रहने वाली थीं। गाने में उनकी दिलचस्पी बचपन में अपने आसपास के माहौल से हुई। उनके वालिद शहंशाह हुसैन नानपारे के स्थानीय कव्वाल थे। इसके बावजूद घर में लड़कियों के गाने को कोई प्रोत्साहन नहीं मिलता था। इसके बावजूद जरीना बेगम ने छिप-छिपाकर गाने का रियाज शुरू किया।

ये भी पढ़ें – कहानी: ईश्वर का चेहरा …मरीज भी खुदा के घर से लौट आए हैं

ऐसे ही छिप-छिपकर वे रेडियो स्टेशन तक पहुंचीं। लेकिन उनके हुनर को असल मुकाम तब मिला, जब वे बेगम अख्तर के नजदीक आईं। इसके बाद दरबारी बैठक गायिकी, दादरी और ठुमरी के फन से इन्‍होंने देश विदेश में खूब शोहरत हासिल की। बीमारी की हालत में भी उन्होंने दिल्ली के इंदिरा गांधी हॉल में गाना गाया था और यही उनकी आखिरी परफॉर्मेंस थी।

बेटे को क्राउड फंडिग से मिला था ई –रिक्‍शा

मोहम्‍मद नावेद ने बताया कि जरीना बेगम अपने अंतिम समय में बेहद आर्थिक तंगी से गुजरीं। आलम ये रहा कि एक निजी एफएम चैनल की मुहिम के बाद क्राउड फंडिंग करके उनके बेटे अयूब के लिए एक ई –रिक्शा खरीदा जा सके। जिसके जरिए वह कुछ कमा लेता है।

ये भी पढ़ें – यहां बर्गर से सस्ता मिलता है ‘पेट्रोल’, खबर पढ़ रह जाएंगे दंग

इसके अलावा पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने मदद की थी। उन्‍हें पांच लाख की धनराशि के बेगम अख्‍तर अवार्ड से सम्‍मानित किया गया था। ज्‍यादा लोग हाल पूछने नहीं आते थे। जरीना बेगम अपने पीछे अपनी बेटी रूबीना, दामाद  नावेद और दिव्‍यांग बेटे अयूब को छोड़ गईं। इनके निधन से संपूर्ण कलाकार जगत सदमे में है।

The post दु:खद: नहीं रहीं गायिका जरीना बेगम, लखनऊ के कलाकार जगत में शोक appeared first on NewsTrack.

Source: Hindi Newstrack