National

एटा पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी : गल्ला व्यापारी से हुई लूट का किया खुलासा

एटा: एटा पुलिस के लिए चुनौती बनी अलीगंज में गल्ला व्यापारी से हुई 50 लाख रुपये की लूट का हुआ खुलासा हो गया। 45 लाख 50 हजार रुपये सहित 5 लोग गिरफ्तार हो गए।राजनैतिकों के नजदीकियों के लूट में शामिल होने से बरामदगी में हुई देरी से लुटे गल्ला व्यवसायी ने पुलिस की कार्रवाई की सराहना की।

जनपद के थाना अलीगंज क्षेत्र में एक सप्ताह पूर्व गल्ला व्यवसायी से 50 लाख रुपये की सरेआम लूट की घटना को अंजाम देने वाले वोलेरो सवार बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अखिलेश चौरसिया ने दिन रात एक करके आखिर चुनौती बनी लूट का खुलासा कर लुटेरों पर अंकुश लगाने का अच्छा प्रयास किया है। लेकिन अभी भी उनके सामने जिला मुख्यालय समेत तीन लूट की घटनाएओं का पर्दाफास करना बाकी है।

ये थी पूरी घटना
घटना क्रम के अनुसार जनपद के थाना अलीगंज क्षेत्र में 5 मई को सचिन यादव द्वारा थाना अलीगंज पर सूचना दी गई कि वह प्रातः 6:30 बजे अपने एक साथी विकास पुत्र श्री रमेश चंद के साथ अपने व्यापार की उधारी को लेकर वापस आ रहा था तभी ग्राम हरसिंगपुर के पास वोलोरो संख्या यूपी 74 सी 6833 सवार अज्ञात लोगों द्वारा मेरी गाड़ी को ओवरटेक कर 45 लाख 50 हजार रुपये लूट लिए थे। ?

ऐसे मिली सफलता 
जनपद के थाना अलीगंज प्रभारी सहित वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा बनाई गई टीमों द्वारा मुखबिर की सूचना पर 12 नंबर चौराहे पर वोलोरो से कहीं भागने की फिराक में जा रहे हैं वोलोरो को रोका तो वे भागने लगे और उन्होंने पुलिस टीम पर फायरिंग कर दी। चारों तरफ से घेराबंदी कर दबाव बनाकर पुलिस ने गैरों की तलाशी ली तो उसमें मुन्ना और चंद्रमोहन शीतल और सत्येंद्र देवेंद्र पुत्र सौदान राजू पुत्र श्याम वीर हरदीप पुत्र नेम सिंह की गाड़ी की तलाशी लेने पर गाड़ी से 45 लाख 50 हजार नगद 17 जिंदा कारतूस 7: खोखे बरामद कर पुलिस ने घटना की रिपोर्ट थाना जैथरा अलीगंज में दर्ज कर अभियुक्तों को जेल भेजा है। अभियुक्त बंटी उर्फ संदीप संदीप के विरुद्ध जनपद सहित प्रदेश राजस्थान में के विभिन्न थाना क्षेत्रों में 19 मुकदमे दर्ज हैं जिनमें लूट डकैती हत्या सहित गैंगस्टर यूपी गुंडा एक्ट आदमी कार्यवाही की गई है। दूसरे अभियुक्त देवेंद्र का भी आपराधिक इतिहास है उस पर अलग-अलग थाना क्षेत्रों में 3 मुकदमे दर्ज हैं तथा वह एक भाजपा नेता के साथ रहकर उसका संरक्षण प्राप्त किए हुए हैं। अभियुक्त मुन्ना यादव का भी आपराधिक इतिहास है चौथे अभियुक्त सत्येंद्र और शीतल का भी आपराधिक इतिहास है इस पूरे घटनाक्रम में मुन्ना घटना का मास्टरमाइंड रहा और उसने योजना के तहत 16 मई को मैनपुरी से एक वोलोरो चोरी कराई उस की नंबर प्लेट बदलवाकर उसके योजनाबद्ध तरीके से व्यापारी सुनील की लूट की और घटना को अंजाम देकर फरार हो गया।

क्या कहना है वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अखिलेश चौरसिया
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अखिलेश चौरसिया ने बताया की उक्त घटना का खुलासा सर्विलांस टीम पुलिस की सक्रियता के चलते हुआ इस पूरे घटनाक्रम में अपराधियों द्वारा जो अपनी कार पर नंबर प्लेट फर्जी बनवाकर लगवाई गई उसी प्लेट से पुलिस असली अपराधी तक पहुंची और पूरी घटना का खुलासा कर अपराधियों सहित पूरा माल बरामद कर लिया गया जबकि व्यापारी द्वारा घटना के दिन लूट में सिर्फ 30 लाख रुपए दर्शाए गए थे। जबकि उसकी लूट में 45 लाख 50 हजार रुपए लूटे गए थे। इसकी पुष्टि पुलिस द्वारा दिल्ली व व्यापारी के दस्तावेजों से कर ली गई है।घटना का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को पुलिस महानिदेशक लखनऊ द्वारा उत्साहवर्धन के लिए 50000 तथा अपर पुलिस महानिदेशक आगरा जोन द्वारा 25000 के पुरस्कृत करने की घोषणा की गई है

The post एटा पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी : गल्ला व्यापारी से हुई लूट का किया खुलासा appeared first on NewsTrack.

Source: Hindi Newstrack

Samvadata
Samvadata.com is the multi sources news platform.
http://Samvadata.com