अपनी मौत के पीछे कई सवाल छोड़ गईं हैं सुनंदा

National

सुनंदा पुष्कर की मौत के मामले में दिल्ली पुलिस की एसआइटी ने सवा चार वर्ष बाद चार्जशीट तो दाखिल कर दी, लेकिन इससे उसकी कार्यशैली पर सवाल उठने लगे हैं. सुनंदा की मौत के एक वर्ष बाद जब पुलिस ने मर्डर की धारा में मुकदमा दर्ज किया था तब किसी को नामजद नहीं किया गया था. अब पुलिस ने उनके पति वरिष्ठ कांग्रेस पार्टी नेता शशि थरूर को मुख्य संदिग्ध आरोपी माना है.

Image result for अपनी मौत के पीछे कई सवाल छोड़ गईं हैं सुनंदा

कई सवाल छोड़ गई सुनंदा की मौत

एसआइटी ने थरूर पर सुनंदा को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया है. सवाल यह है कि जब सुनंदा ने आत्महत्या ही की थी तो पुलिस ने वर्ष भर जांच के बाद मर्डर की धारा में मुकदमा दर्ज क्यों किया था. सुनंदा अपनी मौत के पीछे कई सवाल छोड़ गईं हैं.

फोन पर की थी लंबी बातचीत

17 जनवरी 2014 की शाम चाणक्यपुरी स्थित पांच सितारा लीला होटल के सुइट नंबर 345 में वह संदिग्ध परिस्थितियों में मृत पाई गईं थीं. उस समय पुलिस जांच में यह बात सामने आई थी कि मरने से तीन घंटे पहले उन्होंने अपने स्टाफ से बोला था कि वह उनके लिए सफेद रंग का सूट निकालकर रख दें, उन्हें आइपीएल के मसले पर प्रेस कॉन्फ्रेंस करने जाना है. उन्होंने मीडिया के आठ कर्मियों को फोन कर उनसे लंबी वार्ता भी की थी.होटल के कमरे को देखकर ऐसा नहीं लग रहा था कि उन्होंने खुदकशी की हो.

शरीर पर 12 ताजे घाव के निशान मिले थे

घटना के दौरान सुनंदा के सभी मोबाइल को केस प्रॉपर्टी के तौर पर जब्त करने के बजाए तत्कालीन संयुक्त आयुक्त (सदर्न रेंज) विवेक गोगिया ने उसे शशि थरूर को क्यों सौंप दिया था. कमरे में नींद की दवा अल्प्रेक्स के दो खाली पत्ते मिले थे, जबकि वह यह दवा नहीं लेती थीं. आखिर यह दवा वहां कैसे पहुंची, इस बात का भी पुलिस पता नहीं लगा पाई है. बिस्तर पर खून की छींटे और यूरीन  बॉडीपर 12 ताजे घाव के निशान मिले थे. बांह पर इंजेक्शन के भी निशान मिले थे. कमरे में ग्लास टूटे हुए मिले थे.

कोई बड़ी साजिश तो नहीं

बड़ा सवाल यह भी है कि होटल की जिस तीसरी मंजिल पर सुनंदा ठहरी हुईं थीं, उस तल के सभी सीसीटीवी कैमरे बेकार क्यों थे. क्या इसके पीछे कोई बड़ी साजिश तो नहीं थी. पुलिस ने इस पहलू पर भी तहकीकात नहीं की. दूसरी बार मेडिकल बोर्ड ने अपनी पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बोला था कि सुनंदा की मौत जहर से ही हुई है, लेकिन जहर किसी खाद्य पदार्थ में मिलाकर खिलाया गया या इंजेक्शन के द्वारा दिया गया, इसका पता अभी तक नहीं लग सका है.

शशि थरूर को लेकर थीं परेशान

एम्स फोरेंसिक विभाग के अध्यक्ष डॉ सुधीर गुप्ता के नेतृत्व में मेडिकल बोर्ड ने सुनंदा के बॉडी में पाए गए केमिकल की जांच के बाद दिल्ली पुलिस को रिपोर्ट सौंपते हुए बोला था कि उनकी मौत जहर से हुई है. अंतिम रिपोर्ट के आधार पर ही तत्कालीन पुलिस आयुक्त भीमसेन बस्सी के आदेश पर सरोजनी नगर थाना पुलिस ने अज्ञात के विरूद्ध मर्डर की धारा में मुकदमा दर्ज किया था. मरने से एक दिन पहले 16 जनवरी की रात 12.10 बजे उन्होंने वरिष्ठ पत्रकार नलिनी सिंह से लंबी बात की थी.उन्होंने बताया था कि वह शशि थरूर को लेकर बहुत ज्यादा परेशान हैं. वह वार्ता के दौरान बहुत ज्यादा रोई भी थीं.

The post अपनी मौत के पीछे कई सवाल छोड़ गईं हैं सुनंदा appeared first on Poorvanchal Media | Breaking Hindi News| Current Hindi News| Latest Hindi News | National Hindi News | Hindi News Papers | Hindi News paper| Hindi News Website| Indian News Portal – Poorvanchalmedia.com.

Source: Purvanchal media