International

टीबी जैसी गंभीर बीमारी से हैं परेशान? तो ये खबर आपके लिए है…

सहारनपुर: टीबी रोगियों के लिए अच्छी खबर है। सरकार ने टीबी जैसी गंभीर बीमारी को जड़ से समाप्त करने के लिए निक्षय पोषण योजना शुरू की है। गांव-गांव टीबी मरीज चिहिन्त कर उन्हें बेहतर उपचार देने के साथ पोषण के लिए प्रतिमाह 500 रुपये की धनराशि रोगी के खाते में सीधे भेजी जाएगी। माना जा रहा है कि समय से दवा व बेहतर खानपान से क्षय रोगियों की सेहत जल्द सुधरेगी।

कर्नाटक: कांग्रेस ने जयनगर विधानसभा सीट बीजेपी से छीनी

अखिलेश पर लगा ‘टोटी’ चोरी का आरोप, मंत्री बोले- टोटी से इतना क्‍यों हैं परेशान

सरकार टीबी जैसी घातक बीमारी को लेकर फिक्रमंद है। राष्ट्रीय क्षय रोग नियंत्रण कार्यक्रम के तहत ‘निक्षय पोषण योजना’ शुरू करने जा रही है। अगर कोई व्यक्ति टीबी की बीमारी से ग्रस्त है तो स्वास्थ्य उसके सही होने तक पूरी मानिटरिंग करेगा। टीबी रोगी को जल्द ठीक करने के लिए एच-1 के तहत आने वाली 13 तरह की दवाएं मुफ्त में दी जाएंगी। साथ ही बेहतर खानपान और सीधे खाते में हर माह 500 रुपये की धनराशि भेजी जाएगी।

महागठबंधन का नेता कौन! इस पर राहुल हो गए मौन, जानिए क्या है माजरा

ये धनराशि दो माह की इकट्ठी भेजी जा रही है। रोगी का खाता संख्या व आधार नंबर लिया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग ने एक आदेश जारी किया है, जिसमें कहा गया है कि अगर कोई टीबी रोगी सरकारी, निजी अस्पताल या मेडिकल स्टोर से टीबी रोग से जुड़ी 13 दवाओं को खरीदता है, तो ऐसे रोगी का अलग से रजिस्टर बनाया जाएगा। रोगी का नाम, पता, उम्र, डाक्टर का नाम, दवा का नाम, मोबाईल नंबर आदि का ब्योरा लिखेंगे। बाद में इसकी रिपोर्ट जिला क्षय रोग अधिकारी को भेजेंगे। इससे उन्हें बेहतर इलाज के साथ सरकार द्वारा संचालित योजना का लाभ मिल सकेगा। दवाई आधार कार्ड के नंबर से उपलब्ध कराई जाएगी।

टीबी रोगी यहां करा सकते है पंजीकरण

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार टीबी रोगी जिला अस्पताल समेत जिले के प्राथमिक व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर पंजीकरण करवा सकते है। इसके अलावा वह सीधे क्षय रोग अस्पताल आकर रजिस्ट्रेशन करवा लें। इससे उन्हें मुफ्त दवाओं के साथ सरकार द्वारा संचालित योजना का भी लाभ मिलने लगेगा। निक्षय योजना के तहत भी हर माह 500 रुपये भी मिलेंगे।

सरकारी आंकड़ो के अन्तर्गत जिले में टीबी के मरीज 3942 है, इसमें से 344 गंभीर मरीज हैं। टीम गांव-गांव जाकर टीबी रोगियों की पड़ताल कर रही है। अगर किसी रोगी में टीबी रोग से पीड़ित होने की आशंका है तो उसके बलगम की जांच करवाई जा रही है। जांच में टीबी की पुष्टि होने पर उसका इलाज चलेगा।

ऐसे रखे सावधानी
— मुंह पर कपड़ा रखकर खांसें।

— धूल व धुंआ से अधिक बचाव करें।

— नियमित दवा का सेवन करें।

— खानपान में पोष्टिकता का ध्यान रखें।

— तली व मसालेदार चीजों का सेवन न करें।

— प्रत्येक पखवारा में बलगम की जांच करवाएं।

— सर्दी का अधिक से अधिक बचाव करें ।

— ज्यादा मेहनत वाला काम न करें।

— रोगी के कमरे में अधिक लोग न लेटें।

— छोटे बच्चें, गर्भवती महिलाएं व बूढे रोगी से दूर रहे।

टीबी रोग को जड़ से समाप्त करने के लिए केंद्र सरकार की ओर से निक्षय पोषण योजना शुरू की गई। आने वाले दिनों में लोगों को लाभ मिलेगा। विभाग की और से अभियान चलाकर अधिक से अधिक रोगियों को लाभान्वित किया जा रहा है। लगातार इलाज से टीबी को जड़ से समाप्त किया जा सकता है।

The post टीबी जैसी गंभीर बीमारी से हैं परेशान? तो ये खबर आपके लिए है… appeared first on Newstrack Hindi.

Source: Hindi Newstrack

Samvadata
Samvadata.com is the multi sources news platform.
http://Samvadata.com