National

मोदी-योगी सरकार के षड्यंत्रों से अखिलेश यादव की जान को बड़ा खतरा, सफेद गोली के राज से हुआ खुलासा !

 

लखनऊ : सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव आज समाजवादी पार्टी के लखनऊ स्थित कार्यालय में प्रेस को सम्बोधित कर रहे थे, इस दौरान उन्होंने पत्रकारों के बहुत सारे सवालों के जवाब दिए जिसमे अधिकाँश सवाल बंगले को लेकर ही थे। वहीँ एक सवाल का जवाब देते हुए अखिलेश यादव की जुबान से एक ऐसा सच निकला, जिसने पूरे देश में हलचल पैदा कर दी है।

अखिलेश यादव ने मोदी-योगी सरकार के षड्यंत्रों से जताया अपनी जान का खतरा !

बता दें कि अखिलेश यादव ने एक पत्रकार के सवाल का जवाब देते हुए कहा कि मैं वीवीआईपी गेस्ट हाउस में इसलिए नहीं रुक रहा हूँ क्योंकि मेरे वहां जाने के बाद से गेस्ट हाउस के किचन में कुछ सफ़ेद गोलियां मगाई गयी है, जिसमे ना तो कोई महक है और ना कुछ है। अगर मेरे खाने में ड़ाल दी तो मैं क्या करूँगा ? सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के इस बयान से पूरे देश में सनसनी फ़ैल गयी है। इस बयान के बाद, अखिलेश यादव बोले ये मजाक की बात नहीं है ये संघी लोग सत्ता पाने के लिए कुछ भी कर सकते हैं, इनके षड्यंत्रों के कारण मैं सुबह टहल तक नहीं सकता जब टहलने निकलता हूँ तो 300 लोगों से ज्यादा लोगों के साथ सेल्फी लेनी पड़ रही है, मैं भी इंसान हूँ थकता हूँ पर वैसा इंसान नहीं हूँ जो सबके से सामने अप्रकर्तिक झूठ ही बोल देते हैं कि हम 18 से 22 घंटे काम कर रहे हैं।

अखिलेश यादव बोले कि सपा-बसपा के गठबंधन ने भाजपा और संघ में पूरी तरह खलबली मचा दी है, इनके निशाने पर हैं हम और मायावती जी। जिन लोगों की सरकार में सुप्रीम कोर्ट के एक जज के साथ अनहोनी हो जाती है, एक एथलीट को अचानक हार्ट अटैक बता कर मरा घोषित कर दिया जाता है। ऐसे लोगों की सरकार में हम जैसों को कहीं भी कुछ भी करवाया जा सकता है। ये उन्हीं लोगों की सरकार है जिनके कार्यकर्ता गोडसे ने महात्मा गांधी जी की हत्या की थी।

अखिलेश ने भाजपा को दी टोटी और बोले अब इससे इनका जहर कम फैलेगा !

अखिलेश प्रेस में टोटी लेकर पहुंचे और बोले कि जो टोटी गायब मिली है वही लौटाने आए हैं। मैं सारी टोटियां देने को तैयार हूं। ये टोटी बीजीपी को देना चाहता हूं ताकि उनकी नफरत कम हो। अखिलेश ने ये भी कहा कि सीएम आवास में भी बहुत सारे मेरे सामान हैं, वो सब लौटा दें सीएम।

अखिलेश ने कहा कि मैंने उस घर को अपनी पसंद से बनाया है। अपनी पसंद से मुझे कुछ पसंद है, वो मैं अपने पैसे से करूंगा, दूसरों के पैसे से नहीं। मीडिया ये पता करे कि आपसे पहले वहां कौन पहुंचे। उन्होंने आरोप लगाया कि मीडिया के पहुंचने से पहले सीएम के ओएसडी अभिषेक और आईएएस मृत्युंजय नारायण पहुंचे थे। आरएसए, पीडब्ल्यूडी की टीएम वहां गई थी। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि कल को हमारी सरकार बनी तो हो सकता है कि यही अफसर ये दिखा दें कि यहां बंगले में चिलम मिला है। स्टेडियम था तो मेरा था, स्टील स्ट्रक्चर इसीलिए बनाया था कि कल को कहीं जाना पड़े तो मैं हटा सकूं।

अखिलेश ने कहा कि लोग प्यार में अंधे होते हैं लेकिन गुस्से और जलन में में कितने अंधे होते हैं, वो अब मैंने देखा है। जिन्हें नफरत होती है वे ही ऐसा करते हैं। जो सामान मेरा था वही मैं लेकर गया। उन्होंने मीडिया पर कटाक्ष करते हुए कहा कि कम से कम जो सही था वो तो दिखाते। सपा अध्यक्ष ने कहा कि मुझे तो सरकार की रिपोर्ट का इंतजार है, जिससे पता चले कि मैंने सराकरी संपत्ति को कितना नुकसान पहुंचाया है।

सरकार के इशारे पर तोड़फोड़ के सवाल पर उन्होंने कहा कि जैसा घर मुझे मिला था, जो भी सरकार ने मुहैया कराया था, वो सब यथावत मौजूद है। मेरे घर में पिछले सवा साल में एक हजार बच्चे आए होंगे। उन सबसे पूछो कि कहां है स्वीमिंग पूल। जो स्वीमिंग पूल है ही नहीं, उस पर खबर बना दी गई कि पूल पर मिट्टी डाल दी गई।

The post मोदी-योगी सरकार के षड्यंत्रों से अखिलेश यादव की जान को बड़ा खतरा, सफेद गोली के राज से हुआ खुलासा ! appeared first on दैनिक आज.

Source: Indiakinews