National

रामपुर में चिकित्सा सेवाएं पटरी से उतरी , भाजपाई को जनता की नहीं रिस्तेदारो की फ़िक्र -माकपा

रामपुर बुशहर / न्यूज़ व्यूज पोस्ट

सत्ता परिवर्तन के बाद रामपुर के खनेरी चिकित्सालय से चिकित्सकों व
स्टाफ का तबादला भाजपा के लिए गले की फांस बन गई है। पहले रामपुर युवा
कांग्रेस से लेकर महिला कांग्रेस व अन्य संगठनों ने भी लगातार भाजपा को
इस मुद्दे पर घेरना शुरू कर दिया। अब लाल झंडाधारी भी मुखर होने लगे है।
उल्लेखनीय हैकि रामपुर के खनेरी स्थित महात्मा गाँधी चिकित्सा सेवा
परिसर लगभग साथ लगते 4 जिलों को विशेषज्ञ चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध
कराता है। जिस कारण यहां मरीजों की संख्या दिन व् दिन बढ़ती ही जा रही
है। लेकिन इस चिकित्सालय से चिकित्स्कों के तबादले व् बिगड़ती दशा से
मुद्दा बिहीन कांग्रेस और दूसरे संगठनों को मौका मिल गया। माकपा नेताओ का
कहना हैकि क्षेत्रीय भाजपाइयों ने सत्ता मिलते ही जनहित को नजर अंदाज कर
अपनी सुख सुविधाओं को देखना शुरु कर दिया। सर्वप्रथम डेंटल के एक
विशेषज्ञ चिकित्सक को जिसे पूर्व में अत्यंत आवश्यक समझते हुए पद ना होते
हुए भी तैनात किया गया था। लेकिन एक भाजपा नेता के निकट रिश्तेदार
बीडीएस को यहाँ लाने के लिए विशेषज्ञ चिकितसक का तबादला किया गया।
उसके बाद अन्य विशेषयज्ञ चिकित्सकों को भी तब्दील करने की प्रक्रिया
शुरू कर दी गई।
उल्लेखनीय हैकि इसे लेकर युवा कांग्रेस महिला कांग्रेस वह ब्लॉक कांग्रेस
ने प्रशासन के माध्यम से अपना विरोध दर्ज किया था। कांग्रेसियो का आरोप
था की कांग्रेस सरकार के समय रामपुर के खनेरी में चिकित्सालय में
अव्यवस्थाओं को ले कर हल्ला करने वाली भाजपा सत्ता परिवर्तन के बाद मांद
में चले गई। उधर माकपा नेताओं का कहना है कि ग्रामीण दूधराज क्षेत्रों
में स्वास्थ्य सेवाओं का सुदृढ़ होना अत्यंत आवश्यक रहता है लेकिन भाजपा
के लोग सत्ता के नशे में इतने चूर हुए हैं कि उन्हें जनहित नहीं अपने
रिश्तेदारों को कहां और कैसे सुगम स्थान पर सेवाएं दिलाई जाए चिंता सता
रही है। माकपा नेता बिहारी सेवगी , प्रेम ठाकुर, कुलदीप, पूरन ठाकुर,
देवकी नंद आदि ने बताया की खनेरी चिकित्सालय समेत क्षेत्र के शिक्षण व
स्वास्थ्य संस्थान वर्तमान समय में रिक्तियों के कारण बदतर हो गए हैं।
उन्होंने कहा खनेरी से डेंटल सर्जन को तब्दील करने के बाद क्षेत्र में
कोई भी डेंटल का सर्जन नहीं है। जब की दुर्घटनाओं का होना क्षेत्र में
आम है , ऐसे में डेंटल सर्जरी वालो को आईजीएमसी या चंडीगढ़ ही जाना पड़ रहा
है। उन्होंने कहा कि सरकार को जनहित को ध्यान में रखते हुए लोगो के लिए
सुविधाएं बढ़ाई जाए ,लेकिन वर्तमान सरकार क्षेत्रीय भाजपा नेताओं के
इशारे पर जनहित को नजरअंदाज कर स्वार्थ सिद्धि वाली राजनीति में मशगूल हो
गई है। उन्होंने कहा कि समय रहते स्वास्थ्य व शिक्षण संस्थानों में
रिक्तियां दूर नहीं की गई तो किसान आंदोलन का रास्ता अपनाएंगे।

The post रामपुर में चिकित्सा सेवाएं पटरी से उतरी , भाजपाई को जनता की नहीं रिस्तेदारो की फ़िक्र -माकपा appeared first on News Views Post.

Source: News views

Samvadata
Samvadata.com is the multi sources news platform.
http://Samvadata.com