National

योग में रामपुर ने रचा इतिहास , गोल्डन बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉड के प्रतिनिधियों की प्रशंसा

रामपुर बुशहर / विशेषर नेगी

हिमाचल के रामपुर बुशहर ने योग में नया इतिहास रचा है i । रामपुर के पाटबांग्ला मैदान में योग चैम्पियनशिप में 16 गोल्डन बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकार्ड बने । ट्रिपल एच योग समिति द्वारा आयोजित इस पर्तिस्पर्धा में देश के विभिन्न हिस्सों से प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया । बीते वर्ष भी इसी दिन इसी स्थान पर 11 गोल्डन बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड बने थे। रिकॉर्ड बनाने वालो में अधिकतर रामपुर के दूर दराज ग्रामीण क्षेत्र के बच्चे है ।
ऐसे में भारत को योग में विश्व गुरु बनाते हुए निरोग और स्वस्थ समाज का निर्माण करने के लिए हिमाचल के पहाड़ो पर योगी तैयार होने लगे है। शिमला शिमला ज़िले के रामपुर में गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड पर्तिस्पर्धा के मुख्य अतिथि हिमाचल प्रशासनिक सेवा अधिकारी मनमोहन सिंह थे। उन्होंने इस दौरान प्रतिभागियों को योग के महत्व बारे विस्तार से बताया। इस प्रतियोगिता में हिमाचल के अलावा पंजाब , दिल्ली , मध्यप्रदेश व् हरियाणा से भी प्रतिभागी आये थे।
लेकिन रिकार्ड बनाने वालों में अधिकतर हिमचाल प्रदेश के रामपुर के दूर
दराज पिछड़े इलाके गानवी के बच्चे है। इन में एक छात्रा कौशल्य जिन्होंने प्रधानमंत्री मोदी से योग की प्रेरणा ले कर आज तीन रिकार्ड अपने
नाम किये है जबकि एक रिकार्ड बीते वर्ष भी बना चुकी है। हिमाचल के दूर दराज पिछड़े क्षेत्र में योग में इस मुकाम तक छात्रों और युवाओ को पहुँचाने में ट्रिपल एच योग समितिकी भूमिका की लोगो ने प्रशंसा की। । वीरवार को गोल्डन बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकार्ड के प्रतिनिधियों के समक्ष हुई प्रतियोगिता में जिन्होंने अपना नाम गोल्डन बुक में दर्ज किया है उन में

1. बद्धपध्मासन्न में मास्टर सागर 1 घण्टा 25 मिन्ट, लुधियाना से
2. पूर्ण मस्तेयन्द्र आसन, पुरनेया , 9 मिन्ट मध्य प्रदेश से
3. मल आसन , 24 मिन्ट राजेश कुमार लुधियाना से
4. सुप्त वज्र असान, 45 मिन्ट मास्टर अरुण, लुधियाना से
5. ससंग आसान, 40 मिन्ट , सपना, पंजाब से
6. सेतु बंध आसान, मुकेश , 8 मिन्ट हरियाणा से
7. उध्र्व पदम् आसान, पियूष मेहता, 28 मिन्ट, गानवी रामपुर से

8. गर्भ आसान, मास्टर सुमित 1 घण्टा 11 मिन्ट, रामपुर से

9. हनुमान आसान, समीक्षा डोगरा, 1 घण्टा 20 मिन्ट, गानवी रामपुर से
10. चक्रासन दंड, 1 मिन्ट में 116 दंड, आशीष जंत, गानवी रामपुर से
11,, चक्रासन दंड, 27 मिन्ट 26 सैकिंड . में 1000 दंड। कौशल्य योगिग्नि गानवी रामपुर से

12. चक्रासन मैराथन 100 मीटर, आशीष 18 साल से कम , समय 4 मिन्ट 25 सेकिंड गानवी रामपुर से
13. चक्रासन मैराथन 100 मीटर , समीक्षा डोगरा, 6 मिन्ट गानवी रामपुर से

. चक्रासन मैराथन, 100 मीटर,
18 साल से ज्यादा , लव सिंह चौहान मध्यप्रदेश से । समय 3 मिन्ट में

15. ताड़ आसान, 5 मिन्ट में ज्यादा 650 से ज्यादा, लोगों ने एक साथ किया, ट्रिपल एच योग समिति के नाम , मार्स रिकॉर्ड दर्ज

16. योग मुद्रा आसन का रिकॉर्ड 10 घण्टे के लिए कौशल्य गानवी रामपुर से

ट्रिपल एच योग समिति के योग शिक्षक एवम योगा के
अंतरराष्ट्रीय रेफरी रणजीत सिंह ने बताया अंतर्राष्ट्रीय योग अभ्यास शिविर, विश्वकीर्तिमान दिवस के अवसर पर 16 से अधिक विश्व कीर्तिमान बने। । उन्होंने बताया इस प्रतियोगिता में हिमाचल के अलावा पंजाब , हरियाणा , मध्यप्रदेश ,दिल्ली से आये प्रतिभागियों के साथ क्षेत्र के स्कूली बच्चो ने हिस्सा लिया। उन्होंने बताया पूरे भारत और विश्व के लिए हिमाचल प्रदेश के रामपुर ने एक संदेश दिया की योग को अपनाये।

लव सिंह चौहान मध्यप्रदेश से आये प्रतिभागी ने बताया यहां योग पर्तिस्पर्धा में भाग लेने आये है। उन्होंने बताया योग केवल शारीरिक क्रिया ही नहीं है बल्कि आध्यात्मिक क्रिया है। उन्होंने बताया आज 16 लोग रिकार्ड बना रहे है।
-कौशल्य ने बताया बीते वर्ष भी इसी दिन योगा में गोल्डन बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकार्ड बना चुकी हूं। इस बार और तीन रिकार्ड बनाने जा रही हूं। कौशल्य ने बताया की इस तरह के कीर्तिमान के लिए देश के प्रधानमंत्री से प्रेरणा ले कर आगे बढ़ रही हु। उन्होंने बताया योगा मनुष्य जीवन में अत्यंत लाभकारी है। इस से मनुष्य को डबल एनर्जी मिलती है।
राकेश वैध मेनेजर गोल्डन बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकार्ड ने बताया आज 14 रिकार्ड लगभग बन चुके है ,बाकी कुछ रिकार्ड बन रहे है। उन्होंने बताया पहली बार विश्व में एक साथ योगा के रामपुर जैसे क्षेत्र में 14 से अधिक रिकार्ड बने है। इस से रामपुर के साथ भारत का नाम भी यह गर्व की बात है।

नौ वर्ष के अरुण ने बताया वे योगा में गोल्डन बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकार्ड में नाम दर्ज करने के लिए रामपुर कम्पटीशन में आये है उन के साथ उन का भाई और पिता भी रिकार्ड बना रहे है।

The post योग में रामपुर ने रचा इतिहास , गोल्डन बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉड के प्रतिनिधियों की प्रशंसा appeared first on News Views Post.

Source: Newsviews post

Samvadata
Samvadata.com is the multi sources news platform.
http://Samvadata.com