PM नरेन्‍द्र मोदी ने कहीं ये 20 बड़ी बातें, पढिए क्‍या है इसमें खास

National
लखनऊ: पीएम नरेन्द्र मोदी ने रविवार को राजधानी के इंदिरागांधी प्रतिष्ठान में 60 हज़ार करोड़ के 81 प्रोजेक्ट की आधारशिला रखते हुए योगी सरकार की तारीफ की। फरवरी में हुए इन्वेस्टर्स समिट में सवा चार लाख करोड़ से अधिक के निवेश का इरादा दोहराया गया था। इस संकल्प को जमीन पर उतारने की इस कड़ी में आज बहुत बड़ा कदम उठाया जा रहा है।
60 हजार करोड़ का निवेश छोटा नहीं होता
पीएम नरेन्द्र मोदी ने अपने संबोधन में राज्य के औदयोगिक विकास मंत्री सतीश महाना की तरफ इशारा करते हुए कहा कि वह अपने भाषण में बड़ी ही विनम्रता से कह रहे थे कि सिर्फ 60 हजार करोड़ का निवेश हुआ है। आपकी भूख ज्यादा है, यह अच्छा है। पर 60 हजार करोड़ कम नहीं होता, बहुत बड़ा होता है। इस दौरान मोदी ने पूंजी निवेश में आने वाली अड़चने गिनाई। कहा तमाम स्वीकृतियों में दिक्कते होती हैं और अगर एक बार यह अखबार वालों के हत्थे चढ गया तो फिर सरकार भी डर जाती है कि उसे काम दे या न दें। उन सारे संकटों को पार करते हुए पांच महीने में ये मोमेंटम लाना। यह अदभुत सफलता है।
देश या तो पीएम से चलता है या पटवारी से
पीएम नरेन्द्र मोदी ने कहा कि देश या तो प्रधानमंत्री से चलता है या पटवारी से। इसलिए ये कदम नेतृत्व की सफलता है। सारी टीम एक समान दिशा में आगे बढ रही है।
सीएम योगी ने सारी चीजें किसी एक आदमी पर नहीं छोड़ी
पीएम ने सीएम योगी की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने सारी चीजें किसी एक आदमी पर नहीं छोड़ी। अलग—अलग सेक्टर की पालिसी बनाई। इसमें पारदर्शिता रखी। निवेश लाने का काम मैंने बहुत लम्बे समय से किया है। मुझे पता है कि इसमें कितनी कठिनता आती है।
सीएम योगी संतुलित विकास कर रहे हैं
उन्होंने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि सीएम योगी प्रदेश का संतुलित विकास कर रहे हैं।
जिस तरह साइकिल के टयूब में हवा भरने से साइकिल चलती है। कभी—कभी टयूब में एक कोने पर गुब्बारा बन जाता है। मशीन में दिखता है। इतने प्वाइन्ट हवा भर गई। पर साइकिल नहीं चल पाती। पर सीएम योगी प्रदेश का संतुलित विकास कर रहे हैं। नोएडा के इतर अन्य जगहों पर भी विकास हो रहा है। यहां सारी चीजों को बताया गया है।
यह रिकार्ड ब्रेकिंग सेरेमनी 
पीएम ने कहा कि कुछ लोग इस कार्यक्रम को ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी कह रहे हैं। पर यह ह रिकार्ड ब्रेकिंग सेरेमनी है। इतने कम समय में पुराने तौर तरीकों को बदला गया है। यूपी में पहले का कोई भी व्यक्ति कह सकता है। यहां के लिए यह बिल्कुल नई चीज है। आनलाइन एमओयू या क्लियरेंस के लिए सिंगल विंडो प्लेटफार्म यूपी में बदली हुई कार्य संस्कृति को दर्शाता है। एक समय था जब यूपी में लोग काम को चुनौती मानते थे।
जो गलत करेगा उसे देश छोड़कर भागना पड़ेगा या जेलों में जिंदगी गुजारनी पड़ेगी
मोदी ने कहा कि महात्मा गांधी का जीवन इतना पवित्र था। इन्हें बिरलाजी के साथ रहने में कोई परेशानी नहीं थी। देश के उदयोगकारों की भी देश को बनाने में भूमिका है। हम उन्हें अपमानित करेंगे चोर लुटेरे कहेंगे। यह कौन सा तरीका है। जो गलत करेगा। उसे देश छोड़कर भागना पड़ेगा या जेलों में जिंदगी गुजारनी पड़ेगी। इसलिए देश को आगे बढाने के लिए हर किसी के साथ और सहयोग की आवश्यक्ता है।
दो लाख से अधिक युवाओं को रोजगार
मोदी ने कहा कि जो प्रोजेक्टस आज शुरू हुए हैं। इनसे यहां के दो लाख से अधिक युवाओं को सीधा रोजगार मिलने की उम्मीद है। जहां ये फैक्ट्रिया लगेंगी। वहां के लोगों को अप्रत्यक्ष रोजगार मिलेगा। इससे हर किसी को लाभ होगा।
22 करोड़ जनता से किया था वादा प्यार ब्याज सहित लौटाऊंगा
उन्होंने कहा कि मैंने यूपी की 22 करोड़ जनता को वचन दिया था कि उनके प्यार को ब्याज सहित लौटाउंगा। यह उसी की एक कड़ी है। यह प्रोजेक्ट किसी राज्य या विशेष क्षेत्र तक ही सीमित नहीं है। इसका विस्तार पश्मिांचल से पूर्वांचल तक फैला हुआ है। यह मेक इन इंडिया को एक नया आयाम देने में एक बड़ा कदम सिद्ध होने वाले हैं।
सबका साथ, सबका विकास
पीएम ने कहा कि यह सरकार के उस व्यापक प्लान का हिस्सा है। जिससे साथ हम डिजिटलाइजेशन के साथ सामान्य जनता के जीवन को सरल बनाए। एक ऐसी व्यवस्था बनाना चाहते हैं जहां किसी के साथ भेदभाव की गुंजाइश न हो। सबका साथ सबका विकास।
डिजिटल इंडिया से बदल रहा ग्रामीणों का जीवन
पीएम मोदी ने कहा कि सर्विसेज की तेज और ट्रांसपेरेंट व्यवस्था अपनी व्यापक भूमिका निभा रहा हैं। टेलीफोन और बिजली के बिल आदि जमा करने के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर लगाने नहीं पड़ रहे हैं। ग्रामीणों का जीवन बदल रहा है। देश की ताकत बड़े शहरों तक सीमित रह गई। टुकड़ों में सोचने की सरकारी परम्परा समाप्त हो चुकी है।
यूपी में 50 से अधिक मोबाइल बनाने वाली फैक्ट्रिया
डिजिटल इंडिया का जो भी प्रचार हो रहा है। इसके पीछे सस्ते होते मोबाइल एक बड़ी वजह हैं। आज देश मोबाइल निर्माण का हब बनता जा रहा है। आज हम दुनिया में मोबाइल बनाने के मामले में दूसरे नम्बर पर पहुंच गया है। यूपी में 50 से अधिक मोबाइल बनाने वाली फैक्ट्रिया हैं।
कृषि में कारपोरेट निवेश सिर्फ 1 फीसदी, इसे बढाने को उदयोगकारों से आग्रह 
पीएम ने कहा कि मुम्बई में उदयोगजगत के लोगों को बुलाया और उनके सामने प्रस्तुति दी की हमारे देश में उदयोग जगत का कृषि में निवेश सिर्फ एक प्रतिशत है। जो दुनिया के किसी देश से कम है। आधा दिन लगाया कि हमारे कारपोरेट का कृषि में निवेश कैसे आए। आग्रह कर आया।विषय भी समझाया कि कैसे हो। इस क्षेत्र में काम करने के लिए देश के उदयोगकारों से विशेष आग्रह किया है।
सौर उर्जा की क्षेत्र में यूपी बड़ा हब बनने जा रहा
देश पारम्परिक इनर्जी से ग्रीन इनर्जी की तरफ बढ रहा है। सौर उर्जा की क्षेत्र में यूपी बड़ा हब बनने जा रहा है। मिर्जापुर में एक बहुत बड़े सोलर प्लांट का शिलॉन्न्यास किया गया है। 2013-14 में जहाँ हमारा एनर्जी डेफिसिट 4.2% था। 4 साल के भीतर आज डेफिसिट 1% से भी कम हो गयी है। बिजली उत्पादन से लेकर घर—घर तक बिजली पहुंचाने का काम किया जा रहा है।
जो कोयला कभी कालिख का कारण बन है, वो आज रिकॉर्ड स्तर पर
मोदी ने कहा कि देश मे जो कोयला कालिख का कारण था आज रेकॉर्ड स्तर पर है। कोयले की कमी से ग्रिड नही फेल होगा। उजाला के तहत बिजली में, एलईडी बल्ब जो लगे, उससे बिजली के बिल में, पिछले तीन साल में 50 हज़ार करोड़ की बचत हुई है।हमने योजना ऐसी बनाई की 50 हज़ार करोड़ लोगों की जेब मे बचत हुई है।
बिजली की स्थिति सुधरी है
मोदी ने कहा कि बिजली की स्थिति सुधरी है। वर्ल्ड बैंक की इज ऑफ गेटिंग इलेक्ट्रिसिटी में भारत ने 82 अंक की छलांग लगाई है। अगले वर्ष मार्च तक हर घर तक बिजली पहुंचाने का लक्ष्य है। ट्रांसमिशन को मजबूत किया जा रहा है।
अटलजी की सोच को आगे बढाने का काम
अटल जी का जिक्र करते हुए कहा कि वह ऐसा गांव देखना चाहते थे। जहां शहरों और गांवों के बीच खाई नहीं हो। अटलजी ने कभी कहा था यह भारत की नियति को तय करने वाली है। अटलजी की सोच को 21वीं सदी के मुताबिक अगले कदम तक ले जाने का प्रयास कर रहे हैं।
आईटी इंडस्ट्री देश की ताकत 
यूपी में तेज इंटरनेट सर्विस के लिए ऑप्टिकल फ़ाइबर बिछाने से नई दिशा और युवाओं का नया अवसर देगा। ऐसा माहौल बनेगा की गति दिखेगी सब के साथ समान व्यवहार होगा। ऐसी व्यवस्था का सपना डिजिटल इंडिया से साकार होगा। आईटी इंडस्ट्री देश की ताकत है। हमारी सरकार इस ताकत को देश के छोटे शहर और गावो तक पहुचने का काम कर रही।अब सलूशन और synchronisation को प्रोत्साहित कर रहे हैं। सरकार की एक योजना दूसरे से कनेक्टेड है।
जो कैश से व्यापार कर रहे, digitalisation की तरफ आएं
बरसो से अटके जीएसटी ने देश को टैक्स के जाल से मुक्त किया है। इसका फायदा भी उद्योगों को हुआ है। एक आदेश के द्वारा सरकार के तमाम वसतुओं और चीजो को मेड इन इंडिया से ही खरीदने पर जोर दिया जा रहा है। मेरी छोटे व्यापारियों से अपील है कि जो अब भी कैश से व्यापार कर रहे, वो digitalisation की तरफ आए। यूपी में योगी सरकार से क्राइम पर कंट्रोल ने भी उद्योग को नया माहौल दिया है। ये जो दौड़ है मेरे लिए अभी ये शुरुआत है। अभी और तेज गति से दौड़ना है। इन सपनो को साकार करने के लिए जो भी फैसले लेने होंगे वो हम मजबूती से लेंगे। लॉजिस्टिक्स पर होने वाला खर्च अब बहुत कम होने वाला है। उद्योग जगत को भी बहुत लाभ होने वाला है। यहां के एमएसएमई सेक्टर को भी आने वाले समय मे इस सबका लाभ मिलने वाला है
आलोचनाओं का भी दिया जवाब
मोदी ने विपक्षी दलों पर हमला करते हुए कहा कि मोदी की आलोचना के लिए जो लोग खोज में लगे हैं। उन्हें सोचना चाहिए कि मेरे खाते में 4 साल है। उन के खाते में 70 साल है। पीएम ने कहा कि हम उद्योगकारों के बगल में खड़े होने से नही डरते हैं। जिस तरह देश के विकास में किसान और अन्य वर्गों के लोगों का रोल है। ठीक उसी तरह उदयोगकारों का भी देश के विकास में रोल हैं।
अमर सिंह की तरफ इशारा कर ली चुटकी
उन्होंने समारोह में मौजूद पूर्व सपा नेता अमर सिंह की तरफ इशारा करते हुए कहा कि अमर सिंह बैठे हैं। उनको पता है कि कैसे लोग घर में बैठे। लोग उदयोगकारों से जनता के बीच नहीं मिलते हैं। पर बंद कमरे में मिलते हैं। हालांकि पीएम नेे इस दौरान किसी का नाम नहीं लिया ।

The post PM नरेन्‍द्र मोदी ने कहीं ये 20 बड़ी बातें, पढिए क्‍या है इसमें खास appeared first on Newstrack Hindi.

Source: Hindi Newstrack