इस यंगमैन ने 1 लाख रुपये से शुरू किया था स्टार्ट -अप, 2 साल में ऐसे बन गये करोड़पति

International

कोलकाता: पंख से कुछ नहीं होता, हौसलों से उड़ान होती है। मंजिल उन्हीं को मिलती है। जिनके सपनों में जान होती है। इस उदाहरण को कोलकाता के रहने वाले दीपक अग्रवाल ने सच साबित कर दिखाया है। सुबह 9 से शाम 8 बजे की प्राइवेट जॉब से तंग आकर उसने 70 हजार रुपए महीने की सैलरी वाली जॉब छोड़ दी। खुद का स्टार्ट अप शुरू किया। अपनी लगन के दम पर वह 2 साल में ही करोड़पति बन गये। बिजनेस बढ़ाने के लिए वह अपनी कंपनी की फ्रेंचाइजी भी ऑफर कर रहे हैं। फिलहाल देश के 6 शहरों तथा सिंगापुर और दुबई में अपनी सर्विस दे रहे हैं।

ये भी पढ़ें…फ़ीस के लिए नहीं थे पैसे, पिता लगाते थे रेहड़ी, ऐसे बन गये करोड़पति

1 लाख में शुरू किया बिजनेस

दीपक अग्रवाल ने से बातचीत में कहा कि कॉमर्स में ग्रैजुएशन के साथ उन्होंने सीए और सीएस की पढ़ाई भी की। 2010 में ग्रैजुएशन के बाद वह दिल्ली आ गए और यहां उन्हें एक बिजनेस कंसल्टिंग फर्म में 18,500 रुपए मंथली की नौकरी मिली। फैमली बैकग्राउंड बिजनेस होने के कारण उनका मन नौकरी में नहीं लगा। दीपक ने जब नौकरी छोड़ी तब उनकी सैलरी 70,000 रुपए थी। नौकरी छोड़ने के बाद दीपक ने डिजिटल एडवरटाइंजिंग में हाथ आजमाने की सोची। उन्होंने देखा कि डिजिटल क्रांति का फायदा रिटेल सेक्टर और बिजनेसमैन नहीं उठा पा रहे थे। उन्होंने अपने क्लाइंट को डाटा बेस के फायदे के बारे में बताया। उन्हें बताया कि कस्टमर्स का कॉन्टैक्ट नंबर और ई-मेल एड्रेस का डाटा बेस बनाना कितना जरूरी है। उन्होंने खुद की बचत के 1 लाख रुपए की रकम से वनएक्स सॉल्यूशंस की शुरुआत की।

ये भी पढ़ें…3 दोस्तों ने MNC की जॉब छोड़ शुरू किया स्टार्ट-अप, 2 साल में खड़ी कर दी 75 लाख की कंपनी

sms से कस्टमर्स को करते है अपडेट

वनएक्स सॉल्यूशंस ब्लक शॉर्ट मैसेज सर्विस (एसएमएस) बिजनेस में डील करती है। कंपनी अपने क्लाइंट के लिए उनके कस्टमर्स को एसएमएस भेजकर नए ऑफर्स और सर्विस के बारे में जानकारी उपलब्ध कराती है। 160 कैरेट के एक एसएमएस का चार्ज 12 पैसे होता है।

1 करोड़ से ज्यादा है टर्न ओभर

पहले साल में कंपनी का टर्नओवर 32 लाख रुपए के करीब हो गया। कंपनी से करीब 500 क्लाइंट पहले साल जुड़े। अच्छी सर्विस मिलने से कंपनी को रेफरिंग से और क्लाइंट मिलने शुरू हुए। क्लाइंट बेस बढ़ने पर दीपक ने अपना ऑफिस घर से शिफ्ट किया और कोलकाता के लाल बाजार में 20,000 रुपए महीने पर एक ऑफिस किराए पर लिया। 2015-16 में साल में 2500 क्लाइंट के साथ कंपनी का टर्नओवर 1 करोड़ रुपए के पार हो गया। कंपनी में ग्रोथ जारी रही और 2016-17 में कंपनी का टर्नओवर 2.25 करोड़ रुपए रहा। कंपनी के पास अब 4000 क्लाइंट हैं।

4 लाख में दे रहे फ्रेंचाईजी

दीपक ने बिजनेस को अन्य शहरों में बढ़ाने के उद्देश्य से वनएक्स सॉल्यूशंस की फ्रेंचाइजी देना शुरू किया है। कंपनी की फ्रेंचाइजी के लिए 4 लाख रुपए खर्च करने होंगे। यह रिफंडेबल सिक्युरिटी डिपॉजिट के तौर पर लिया जाता है। फिलहाल कंपनी के पास एडिडास, एचयूएल, तनिष्क, पिज्जा हट, शॉपर्स स्टॉप, बाटा जैसे नामी क्लाइंट है। दीपक का लक्ष्य इस साल कंपनी का टर्नओवर 5 करोड़ रुपए के पार करना है।

The post इस यंगमैन ने 1 लाख रुपये से शुरू किया था स्टार्ट -अप, 2 साल में ऐसे बन गये करोड़पति appeared first on Newstrack Hindi.

Source: Hindi Newstrack