इमरान खान के गद्दी संभालने से पहले ही आई बुरी खबर, जाने क्या हुआ बवाल

International

नयी जिम्‍मेदारी चुनौतियों भरी होगी इस समय पाकिस्‍तान सबसे बड़े आर्थिक संकट से गुजर रहा है ऐसा अमेरिका के पाकिस्‍तान को दी जाने वाली आर्थिक मदद रोके जाने के कारण हुआ है हालांकि चाइना उसे विभिन्‍न परियोजनाओं के नाम पर फंड मुहैया करा रहा है, लेकिन उससे नए वजीर-ए-आजम के लिए राष्ट्र चलाना सरल नहीं होगा इस बीच एक बुरी समाचार यह भी है कि पाक सांख्यिकीय ब्यूरो (पीबीएस) ने महंगाई के आंकड़े जारी किए हैं इसमें बताया गया है कि राष्ट्र में उपभोक्ता मूल्य सूचकांक पर आधारित महंगाई दर जुलाई 2018 में चार वर्ष के उच्च स्तर पर है

Image result for इमरान खान के गद्दी संभालने से पहले बुरी खबर

चार वर्ष में सबसे ज्‍यादा महंगाई
खबर एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, पीबीएस की ओर से बुधवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, पाककी वार्षिक महंगाई दर जुलाई में बढ़कर 5.83 प्रतिशत रही जबकि जून में यह 5.21 प्रतिशत थीवहीं जुलाई 2017 में यह दर 2.9 प्रतिशत थी सितंबर 2014 के बाद से यह पाक में सर्वाधिक महंगाई दर है ब्यूरो का कहना है कि पेट्रोलियम उत्पादों की बढ़ी कीमतें, पाकिस्तानी रुपए में गिरावट महंगाई बढ़ने के प्रमुख कारण रहे

बस चाइना से मिल रही आर्थिक मदद
अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के पाकिस्‍तान पर आतंकवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाने के बाद ने भी उस पर कई तरह के आर्थिक प्रतिबंद लगा रखे हैं ऐसे में पाकिस्‍तान के पास विदेशी मुद्रा जुटाने का एकमात्र जरिया चाइना है

चीन दक्षिण एशिया में अपनी पकड़ मजबूत करने की रणनीति के तहत पाकिस्‍तान की मदद कर रहा है उसने पाकिस्‍तान में कई परियोजनाओं में निवेश किया है हाल में चाइना भी मदद रोकने की तैयारी कर रहा था लेकिन पाकिस्‍तान ने चेतावनी दी कि अगर चाइना को इस दक्षिण एशियाई राष्ट्रमें 60 अरब डॉलर के निवेश की योजना को जारी रखनी है तो कर्ज उपलब्‍ध कराते रहना पड़ेगा जून 2018 को खत्‍म वित्‍त साल में पाकिस्‍तान ने चाइना से 4 अरब डॉलर कर्ज लिया था

Source: Purvanchal media