मराठा आंदोलन: बीएससी होने के बाद भी नहीं मिली नौकरी

National
महाराष्ट्र के औरंगाबाद शहर में मराठा समुदाय के 21 वर्षीय एक बेरोजगार आदमी ने आज फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. पुलिस ने यह जानकारी दी.
Image result for मराठा आंदोलन

एक वरिष्ठ पुलिस ऑफिसर ने बताया कि आज दोपहर बाद चिकलथाना इलाके के चौधरी कॉलोनी में अपने घर में उमेश आत्माराम इंदैत ने फांसी लगा ली.

दरअसल, मराठा संगठन अपने समुदाय के लिए जॉब  एजुकेशन में आरक्षण की मांग करते हुए प्रदर्शन कर रहे हैं  पिछले दो हफ्तों में युवकों की आत्महत्या के कम-से-कम छह मामले सामने आ चुके हैं. इंदैत ने कथित सुसाइड नोट में जॉब नहीं मिलने की बात कही है.

इस मुद्दे पर जान देने वाली की संख्या 6 हो गई है. बीड़  नांदेड़ में एक-एक, औरंगाबाद में चार लोग सुसाइड कर चुके हैं. मराठा संगठन ने गुरुवार को कारागार भरो आंदोलन किया. 9 अगस्त को जन आंदोलन किया जाएगा. ये लोग सरकारी नौकरियों  एजुकेशन में अन्य पिछड़ा वर्ग के तहत 16% आरक्षण की मांग कर रहे हैं.

Source: Purvanchal media