नोगली परियोजना से बिजली उत्पादन ठप साढ़े चार लाख का दैनिक नुकसान

National

रामपुर बुशहर / विशेषर नेगी

अढ़ाई मैगावाट की नोगली जल विद्युत परियोजना से बिजली उत्पादन ठप हो गया
है इस से करीब साढ़े चार लाख रूपये का दैनिक हिमाचल बिजली बोर्ड को
नुकसान हो रहा है । नोगली खड्ड का पानी बढ़ जाने के कारण परियोजना का
डायवर्जन चैनल ध्वस्त हुआ है । इस परियोजना से उत्पादित बिजली आस पास
के सैकड़ो गांव को सप्लाई की जाती है । परियोजना से पुनः बिजली उत्पादन
के लिए 20 दिन लग सकते है।
हिमाचल प्रदेश विद्युत बोर्ड दवारा 12 जनवरी 1963 को निर्मित अढ़ाई
मैगावाट की नोगली जल विद्युत परियोजना से बिजली उत्पादन ठप हो गया है।
इस परियोजना से दैनिक अठाई से तीस हजार यूनिट बिजली गर्मियों के मौसम
में तैयार होती है। बिजली उत्पादन ठप होने से विद्युत बोर्ड और सरकार को
भी करीब साढ़े चार लाख रूपये के राजस्व का दैनिक नुक्सान हो रहा है। इस
परियोजना से उत्पादित बिजली को स्थानीय फीडर से जोड़ कर रामपुर , कुमारसैन
, बाहली निरमंड , जगातखाना ,तकलेच और आस पास के सैकड़ो गांव में सप्लाई की
जाती है।
कनिष्ट अभियंता सुरजन सिंह ने बताया अढ़ाई मेगावाट की नोगली परियोजना से
नोगली खड्ड में पानी अधिक आने के कारण विद्युत् उत्पादन ठप हुआ है।
जिस से परियोजना के डायवर्जन चैनल ध्वस्त हो गए है। खड्ड में पानी अधिक
होने के कारण नोगली परियोजना के लिए चैनल को दरुस्त कर पानी छोड़ना
मुश्किल है। इस से पहले खड्ड का बहाव चैनल के साथ अस्थाई तौर से बदलना
जरूरी है। उन्होंने कहा लगातार प्रयास हो रहा है बिली उत्पादन सुचारु
करने में 15 से 20 दिन लग सकते है।
अधिकारियो का कहना है की स्पिल वे में पानी डायवर्ट करने का प्रयास हो
रहा है , लेकिन खड्ड के साथ पानी को अस्थाई तौर पर मोड़ने के लिए जगह ना
होने से काम करने में दिक्क़ते आ रही है। बोर्ड के मौके पर तैनात
अधिकारियो का कहना हैकि परियोजना से बिजली उत्पादन शुरू करने के लिए दो
हफ्ते से अधिक समय लग सकता है।

The post नोगली परियोजना से बिजली उत्पादन ठप साढ़े चार लाख का दैनिक नुकसान appeared first on News Views Post.

Source: News views