सावन शिवरात्रि के दिन करें ये काम, कालसर्प दोष से मिलेगी मुक्ति

Lifestyle

इंटरनेट डेस्क। सावन का पवित्र माह भगवान शिव को समर्पित होता है, इसी वजह से सावन में भोलेनाथ को खुश करने के लिए कई तरह से पूजा की जाती है। वैसे तो शिवरात्रि फाल्गुन मास में मनाई जाती है मगर इस माह में चतुर्दशी को पडऩे वाली शिवरात्रि का खास महत्व होता है। समुद्र शास्त्रों के अनुसार सावन माह की शिवरात्रि को यदि कोई व्यक्ति सच्चे मन से भोलेनाथ की पूजा करता है तो भगवान शिव उसकी सभी मनोकामनाएं पूरी करते हैं। जिन लोगों की कुंडली में कालसर्प दोष है उनके लिए तो यह शिवरात्रि और भी महत्वपूर्ण होती है, यदि कालसर्प दोष से पीडि़त जातक आज के दिन इस विधि से भोलेनाथ की पूजा करें तो उन्हें कालसर्प दोष से मुक्ति मिलती है।

Image result for कालसर्प दोष

कालसर्प दोष से छुटकारा पाने के लिए इस दिन एक छोटा सा चांदी का सर्प बनावाकर तुलसी में रखकर उसकी पूजा करें।

Image result for दीपक जलाएं

पूजा के दौरान घी का दीपक जलाएं, उसक वक्त जातक का मुख पूर्व दिशा की तरह होना चाहिए।

Related image

भगवान शिव को भोग चढ़ा कर दान भी करें, दीपक जब ठण्डा हो जाए तो उसके बाद चांदी के सर्प को पूजा करने वाला जातक उठाकर किसी नदी में प्रवाहित कर दें।

 

नोट: इस ज्योतिष आर्टिकल में दी गई सभी जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे केवल सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।

 

Source: Google

Source: Rochak khabare