ममता के गढ़ में बोले शाह- हम घुसपैठियों को भगाएंगे शरणार्थियों को नहीं

National

कोलकाता: भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह कोलकाता में रैली को संबोधित कर रहे हैं। उन्होंने इस दौरान पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार पर हमला बोला। शाह ने कहा रैली की भीड़ इस बात का संकेत है कि पश्चिम बंगाल से ममता बनर्जी का शासन खत्म होने जा रहा है। पहले इस रैली को रोकने की कोशिश की गई और अब पश्चिम बंगाल के सारे स्थानीय चैनलों को डाउन कर दिया गया है ताकि लोग इस रैली का प्रसारण न देख सकें। उन्होंने कहा कि बीजेपी पश्चिम बंगाल की विरोधी कैसे हो सकती है, जबकि हमारी पार्टी के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी बंगाल से ही थे। उन्होंने कहा कि बीजेपी बंगाल विरोधी नहीं, ममता विरोधी है।

घुसपैठियों को भगाने के लिए है एनआरसी
बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि ममता बनर्जी या राहुल गांधी की कोशिशों से एनआरसी की प्रकिया नहीं रुकेगी। उन्होंने कहा कि एनआरसी घुसपैठियों को भगाने के लिए है। असम में न्यायिक तरीके से इसे लागू किया जाएगा। पहले घुसपैठियों का वोट कम्युनिस्ट पार्टियों को मिलता था तो ममता बनर्जी घुसपैठियों का विरोध करती थीं, लेकिन जब उन्हें इससे वोट मिलने लगे तो अब वह एनआरसी का विरोध कर रही हैं।

एनआरसी पर शाह ने कांग्रेस को घेरा
अमित शाह ने कहा कि एनआरसी असम रेकॉर्ड के तहत बनाया जा रहा है, जो पूर्व पीएम राजीव गांधी ने किया था। तब कांग्रेस ने इसका विरोध नहीं किया, आज वोटबैंक के लिए इसका विरोध कर रही है। घुसपैठिये ही पश्चिम बंगाल में विस्फोट करते हैं। हमारी पार्टी इस राज्य के शरणार्थियों को भरोसा देना चाहती है कि हम ही सिटिजनशिप अमेंडमेंट बिल 2016 लेकर आए हैं, जिसमें उनको नागरिकता दी गई है।

शाह ने कहा कि ममता सरकार जब से आई है, चारों ओर भ्रष्टाचार देखने को मिल रहा है, कानून व्यवस्था की धज्जियां उड़ रही हैं, कारखाने बंद हो रहे हैं और बम बनाने के कारखाने खुल रहे हैं, अपराध के सारे रिकॉर्ड टूट गए हैं. बीजेपी की सरकार आई तो ईमानदार, सख्त कानून व्यवस्था वाली और पश्चिम बंगाल को पुरानी सांस्कृतिक पहचान दिलाएगी।

टीएमसी कार्यकर्ताओं ने किया विरोध
पश्चिम बंगाल के हावड़ा में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) कार्यकर्ताओं ने अमित शाह की रैली का विरोध करते हुए उनके पुतले फूंके और उनकी रैली के विरोध में नारेबाजी की। शाह की रैली को देखते हुए सुरक्षा बढ़ाई गई है। तृणमूल कांग्रेस के महासचिव और राज्य के शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने कहा कि शनिवार की योजना से राज्य की राजधानी कोलकाता को बाहर रखा गया है। उन्होंने कहा कि कोलकाता को छोड़कर, हम एनआरसी के विरोध में पूरे राज्य में रैलियां आयोजित करेंगे। कोलकाता में रविवार को अलग से एक रैली निकाली जाएगी। साथ ही उन्होंने असम सरकार पर एनआरसी मसौदे से बंगालियों को जानबूझकर बाहर रखने का भी आरोप लगाया। टीएमसी नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजंस यानी एनआरसी के खिलाफ पूरे राज्य में धिक्कार दिवस मना रही है। हालांकि कोलकाता में अमित शाह की रैली के चलते यहां रविवार को धिक्कार दिवस के तहत रैली निकाली जाएगी।

बीजेपी समर्थकों की बस पर हमला
अमित शाह की रैली में शामिल होने के लिए कोलकाता आ रहे बीजेपी समर्थकों की बस पर हमला किया गया है। जानकारी के मुताबिक शुक्रवार रात कोलकाता जा रही बीजेपी समर्थकों से भरी बस पर पश्चिमी मिदनापुर के चंद्रकोर में हमला किया।

 

The post ममता के गढ़ में बोले शाह- हम घुसपैठियों को भगाएंगे शरणार्थियों को नहीं appeared first on Newstrack Hindi.

Source: Hindi Newstrack