NEET Exam 2019: साल में दो बार परीक्षा कराने पर संकट, HRD मंत्रालय ने ये कहा

National

नई दिल्‍ली: केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने एक महीने पहले नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट परीक्षा (NEETUG) साल में दो बार कराने की घोषणा की थी और योजना के तहत इसकी शुरुआत साल 2019 से होने वाली थी। लेकिन अब ऐसा लगता है कि एचआरडी मंत्रालय की यह योजना 2019 में लागू नहीं हो सकेगी। क्योंकि स्वास्थ्य मंत्रालय ने एचआरडी मंत्रालय को नीट 2019 को ऑफलाइन मोड में कराने का प्रस्ताव भेजा है।

आईआईटी का अब साल में दो बार आयोजन

वहीं दूसरी ओर इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा आईआईटी जेईई को साल में दो बार ही आयोजित किया जाएगा। बता दें कि अब नीट और आईआईटी जेईई की परीक्षाएं सीबीएसई आयोजित नहीं करेगा, बल्कि इसे नेशनल टेस्टिंग एजेंसी यानि एनटीए आयोजित करेगी। यह भी घोषणा की गई थी कि नेशनल टेस्टिंग एजेंसी सभी परीक्षाएं ऑनलाइन आयोजित करेगी। मंत्रालय ने यह भी घोषणा की थी कि नीट यूजी को साल में दो बार फरवरी और मई में आयोजित किया जाएगा।

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के दबाव में एचआरडी डिपार्टमेंट

एक रिपार्ट के अनुसार स्वास्थ्य मंत्रालय के दबाव में आकर अब एचआरडी मंत्रालय नीट परीक्षा साल में दो बार कराने के अपने फैसले पर दोबारा विचार कर रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने साल 2019 में पेन-पेपर मोड में ही परीक्षा आयोजित करने का सुझाव दिया है।

अधिकारियों के अनुसार मानव संसाधन विकास मंत्रालय इस मामले पर विचार कर रहा है और अगले सप्ताह कोई फैसला ले सकता है। एचआरडी मंत्रालय के अधिकारियों के अनुसार स्वास्थ्य मंत्रालय यह भी चाहता है कि सीबीएसई, परीक्षा के लिए एनटीए की मदद करे क्योंकि सीबीएसई लंबे समय से परीक्षा आयोजित करता रहा है।

The post NEET Exam 2019: साल में दो बार परीक्षा कराने पर संकट, HRD मंत्रालय ने ये कहा appeared first on Newstrack Hindi.

Source: Hindi Newstrack